यूपी में अगले साल से नहीं होगी राज्य इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा, अभ्यर्थियों को मिली राहत

अन्य

23 से 26 फरवरी तक होगा जेईई मेन परीक्षा, साल में 4 बार होगा एग्जाम


दिव्य विश्वास       

मेरठ। राज्य में एक बड़ी परीक्षा खत्म कर दी गई है। उत्तर प्रदेश के विभिन्न कॉलेजों में लाखों सीटों पर एडमिशन के लिए हर साल होने वाली प्रवेश परीक्षा अब इंजीनियरिंग कोर्सेस में दाखिले के लिए नहीं होगी। उत्तर प्रदेश स्टेट एंट्रेंस एग्जामिनेशन परीक्षा के जरिए स्टूडेंट्स को  डा. एपीजे अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी के विभिन्न कॉलेजों में इंजीनियरिंग के अलग-अलग कोर्सेस में एडमिशन मिलता था, लेकिन अब जेईई मेन से एडमिशन होंगे।  इस संबंध में एकेटीयू द्वारा मेरठ इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (एमआईईटी) में प्रेस-वार्ता का आयोजन किया गया। डा.एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्‍वविद्यालय , लखनऊ के प्रति कुलाधिपति प्रोफेसर विनीत कंसल ने कहा की जेईई मेन परीक्षा 2021 का पहला सत्र 23 फरवरी से 26 फरवरी 2021 के बीच होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि इस बार जेईई मेन 2021 का आयोजन साल में चार बार किया जाएगा। फरवरी के बाद दूसरा सत्र 15 मार्च से 18 मार्च , तीसरा 27 अप्रैल से 30 अप्रैल और चौथा 24 मई से 28 मई में होगा। एकेटीयू लखनऊ से संबद्ध संस्थानों में संचालित पाठ्यक्रम बीटेक, एमटेक, एमटेक इंटीग्रेटेड में प्रवेश के लिए जेईई मुख्य प्रवेश परीक्षा के माध्यम से आवेदन करना है।प्रोफेसर विनीत कंसल ने बताया कि ऐसा इसलिए किया गया है, ताकि अलग-अलग समय पर होने वालीं विभिन्न राज्यों की बोर्ड परीक्षाएं जेईई मेन परीक्षा के आयोजन में बाधा पैदा न करें। उन्होंने कहा कि यह विश्व की सबसे बड़ी परीक्षा होगी।  एमआईईटी के निदेशक डॉ मयंक गर्ग ने कहा की अगले शैक्षणिक सत्र 2021-22 में एकेटीयू के इंजीनियरिंग कोर्सेस में एडमिशन लेने के इच्छुक छात्र-छात्राओं को अब यूपीएसईई की जगह जेईई मेन देना होगा। यूनिवर्सिटी द्वारा मान्यता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों में जेईई मेन की तैयारी के लिए निशुल्क कोचिंग की सुविधा दी जाएगी। ताकि स्टूडेंट्स इस परीक्षा के पैटर्न से अवगत हो सकें। स्टूडेंट्स गूगल प्ले स्टोर से एनटीए का ऐप नेशनल टेस्ट अभ्यास डाउनलोड करके भी जेईई मेन की प्रैक्टिस शुरू कर सकते हैं। यूनिवर्सिटी द्वारा मान्यता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों में जेईई मेन की तैयारी के लिए नि:शुल्क कोचिंग की सुविधा दी जाएगी। ताकि स्टूडेंट्स इस परीक्षा के पैटर्न से अवगत हो सकें।                                                      

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय उत्तर प्रदेश लखनऊ से संबद्ध संस्थानों में संचालित अन्य पाठ्यक्रमों बी.फार्मा, बी वॉक, एमबीए इंटीग्रेटेड, एमबीए, एमसीए इंटीग्रेटेड, बीटेक लैटरल एंट्री, बी फार्म लैटरल एंट्री पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनडीए) द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर संयुक्त परीक्षाएं आयोजित की जाएगी। उक्त पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए अभ्यर्थी राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इन सभी पाठ्यक्रमों की प्रवेश परीक्षा अप्रैल मई 2021 में होना प्रस्तावित है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में डायरेक्टर डा. मयंक गर्ग, डीन एकेडमिक डा डीके शर्मा, डा. अमित कुमार आहूजा, विश्वास गौतम मीडिया मैनेजर, अजय चौधरी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *