स्वामी विवेकानन्द की जयंती की पूर्व संध्या पर जयंती समारोह एवं नव सृजित संस्कृति विभाग की सिद्ध पीठ का उद्घाटन

अन्य

दिव्य विश्वास 

मेरठ। रामकृष्ण मिशन दिल्ली प्रमुख स्वामी शांतात्मानंद के कर कमलों द्वारा स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय के संस्कृति विभाग में आयोजित भव्य समारोह में स्वामी विवेकानन्द  की सिद्ध पीठ एवं नव सृजित फोटो गैलरी का उद्घाटन किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में विचार रखते हुए उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानन्द के विचारों को मन से सुभारती विश्वविद्यालय में आत्मसात किया जा रहा है और बड़े हर्ष की बात यह है कि सुभारती विश्वविद्यालय स्वामी विवेकानन्द के नाम पर स्थापित है और उन्हीं के आदर्शों पर सुभारती विश्वविद्यालय शिक्षा का प्रचार प्रसार कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत के चुनिन्दा विश्वविद्यालय है जिन्होंने इतनी भव्य फोटो गैलरी स्वामी  के चित्रों की बनाई है उसमें सुभारती विश्वविद्यालय उत्कृष्ट कार्य कर रहा है। इस अवसर पर उन्होंने विश्वविद्यालय का भ्रमण भी किया। इससे पूर्व कार्यक्रम में पधारने पर मुख्य अतिथि का स्वागत पौधा भेंट कर एवं पटका पहनाकर स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय के कुलपति ब्रिगेडियर डॉ. वी.पी. सिंह ने किया। सुभारती संस्कृति विभाग के प्रमुख विवेक कुमार बाफर ने मुख्य अतिथि को शॉल भेंट कर स्वागत किया।

इस अवसर पर विचार रखते हुए कुलपति ब्रिगेडियर डा. वी.पी. सिंह ने स्वामी शांतात्मानंद जी का विश्वविद्यालय आगमन पर आभार प्रकट करते हुए कहा कि सुभारती विश्वविद्यालय अपने सभी महापुरुषों के संस्कारों को अपने विद्यार्थियों में रोपित कर रहा है। उन्होंने बताया विश्वविद्यालय में प्रत्येक मार्ग, तिराहे एवं समस्त भवन विभिन्न महापुरुषों के नाम पर स्थापित है।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि ने निर्धनजनों के बच्चों को गर्म कपड़े भी वितरित किये। मुख्य वक्ताओं के रूप में कम्युनिटी मेडिसिन विभागाध्यक्ष डा. राहुल बंसल, लॉ कॉलेज के प्राचार्य डा. वैभव गोयल भारतीय,  कुलदीप नारायण, पत्रकारिता संकाय के प्राचार्य डा. नीरज करण सिंह ने भी अपने विचार रखे।

कार्यक्रम में डा. प्रदीप शर्मा, डा. अभय, डा. पिन्टू मिश्रा,  आकाश भटनागर, तरुण काम्बोज,  अंकित शर्मा,  अखिल मुदगल, अमित कुमार, आमिर, अभिषेक, गौरव, सतेन्द्र कुमार उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *