स्वामी विवेकानन्द की जंयती के अवसर पर पुलिस लाइन में आयोजित बच्चों की साईकिल रैली को एसएसपी की धर्मपत्नी मुख्य अतिथि श्रीमती प्रार्थना सिंह द्वारा हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

अन्य

 


दिव्य विश्वास

स्वामी विवेकानंद जी का जन्म 12 जनवरी 1863 को कोलकाता में हुआ था। स्वामी विवेकानन्द जी की जंयती को युवा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। इस अवसर पर आज दिनांक 12.01.2021 को वामा सारथी (उ0प्र0 पुलिस फैमिली वैलफेयर एसोसिएशन) के अंतर्गत रिजर्व पुलिस लाइन में साइकिल रैली का आयोजन किया गया जिसकी मुख्य अतिथि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बुलंदशहर श्री संतोष कुमार सिंह की धर्मपत्नी श्रीमती प्रार्थना सिंह रहीं। साईकिल रैली में पुलिस लाइन मे आवासित पुलिसकर्मियों के बच्चों द्वारा प्रतिभाग किया गया। मुख्य अतिथि श्रीमती प्रार्थना सिंह द्वारा बच्चों को सम्बोधित कर स्वामी विवेकानन्द जी के जीवन परिचय के बारे में बताया गया कि स्वामी विवेकानंद श्री रामकृष्ण परमहंस के शिष्य थे एवं सच्चे देशभक्त थे। इनके अनमोल विचारों से काफी कुछ सीखता है। इनके विचारों में जीवन जीने की कला और कामयाब होने के सूत्र छिपे है। 

स्वामी विवेकानंद जी के विचार:-

1.  जिस समय काम का संकल्प करो, उस काम को उसी समय पूरा करो वरना लोग आप पर विश्वास नहीं करेंगे।

2.  दिन में एक बार खुद से जरूर बात करो, वरना आप दुनिया के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्ति से बात करने का मौका खो देंगे

3.  दिल और दिमाग के टकराव में हमेशा अपने दिल की बात सुनो।

4.खुद को कभी कमजोर न समझो क्योंकि यह सबसे बड़ा पाप है।

5.  उठो जागो और तब तक नहीं रुको, जब तक तुम अपना लक्ष्य हासिल नहीं कर लेते।

इसके उपरान्त मुख्य अतिथि श्रीमती प्रार्थना सिंह द्वारा परेड ग्राउंड में बच्चों की साईकिल रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया जो रैली परेड ग्राउंड से कालाआम चौराहा, डीएम रोड, नुमाइश रोड़ होते हुए पुलिस लाइन वापस आयी। मुख्य अतिथि द्वारा बच्चों को उपहार भेंट किए। इस अवसर पर प्रतिसार निरीक्षक राजेंद्र शर्मा एवं उनकी धर्मपत्नी सहित अन्य कर्मचारीगण भी उपस्थित रहें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *