देश की सेना का नाम हो, आई.एन.ए यानि भारतीय राष्ट्रीय सेना : डा. अतुल कृष्ण

अन्य

 

दिव्य विश्वास,संवाददाता

मेरठ : स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय के कुलपति सभागार में राष्ट्रीय सेना दिवस के अवसर पर सुभारती विश्वविद्यालय के विभिन्न भागों में कार्यरत सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारियों के सम्मान हेतु विशिष्ट सभा का आयोजन किया गया। सुभारती विश्वविद्यालय के संस्थापक डा. अतुल कृष्ण ने सभी सैन्य अधिकारियों को जय हिन्द के उद्घोष के साथ सलामी देते हुए अपने अद्भ्य साहस और शोर्य से मां भारती की रक्षा करने वाले देश के वीर सैनिकों को भारतीय सेना दिवस की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि आज का दिन गर्व की अनुभूति करने का दिन है क्योंकि आज ही के दिन 1949 में अंतिम ब्रिटिश कमांडर फ्रांसिस बुचर से भारतीय सेना के पहले कमांडर के रूप में जनरल केएम करियप्पा ने भारतीय सेना की कमान संभाली थी। 

उन्होंने कहा कि जनरल केएम करियप्पा ने हौसलें और जनून से युद्ध में पाकिस्तान की सेना को रौंद दिया था और परिपक्वता के साथ भारतीय सेना का नेतृत्व करते हुए सेना को मजबूती प्रदान की थी। उन्होंने कहा कि जनरल करियप्पा द्वारा आई.एन.ए. द्वारा प्रयोग किए गए सम्बोधन जय हिन्द को भारतीय सेना में स्वीकार्यता प्रदान करते हुए अपनाया था। देश पर बलिदान होने वाले सैनिकों के प्रति सही श्रद्धांजलि तभी होगी जब भारतीय सेना का नाम आई.एन.ए. यानि भारतीय राष्ट्रीय सेना किया जाए। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.