बसपा को बड़ा झटका, मेरठ की मेयर सुनीता वर्मा पूर्व विधायक पति के साथ साइकिल पर सवार

अन्य

  • पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कर दिया था पार्टी से निष्कासित
  • पत्नी को महापौर बनवाकर भाजपा के किले में की थी सेंधमारी

दिव्य विश्वास, संवाददाता

मेरठ। कभी मायावती के करीबी लोगों में शुमार रहे हस्तिनापुर के पूर्व विधायक योगेश वर्मा अपनी महापाैर पत्नी सुनीता वर्मा के साथ सपा में शामिल हो गए हैं। पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने पहले भाजपा में शामिल होने का प्रयास किया लेकिन भाजपा में उनकी दाल नहीं गली। इसके बाद उन्होंने अखिलेश यादव से हाथ मिला लिया।

मेरठ की मेयर सुनीता वर्मा और पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने शनिवार को लखनऊ में सपा की सदस्यता ग्रहण की। इस दौरान उनके साथ समर्थक भी मौजूद रहे। योगेश के साथ तकरीबन आधा दर्जन मेरठ के पार्षद भी सपा में शामिल हुए। इस दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि लगातार सपा में बड़ी संख्या में लोग शामिल हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज की ज्वाइनिंग ऐतिहासिक है। पूर्व विधायक मेरठ योगेश वर्मा का स्वागत किया। सपा का कुनबा बढ़ने पर पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने भी पार्टी में शामिल होने वाले पूर्व विधायकों और नेताओं का स्वागत किया।

बता दें कि राजनीती की मुख्य धारा से अलग-थलग पडे़ पूर्व विधायक योगेश वर्मा और उनकी पत्नी मेयर सुनीता वर्मा को मायावती ने बसपा से निष्कासित कर दिया था। जिसके बाद से वे राजनीतिक उपेक्षा का शिकार हो रहे थे। योगेश वर्मा ने नगर निगम के चुनाव में अकेले ही भाजपा को जबरदस्त राजनीतिक मात दी थी। उन्होंने अकेले अपने दम पर अपनी पत्नी सुनीता वर्मा को बसपा से निगम की महापौर बनवा दिया था। सुनीता वर्मा के महापौर बनने पर मायावती ने उन्हें लखनऊ बुलाकर सम्मानित किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *