स्वाभिमान से जीने का ढंग सिखा दिया गुरु गोविंद सिंह ने : मनजीत सिंह कोछड़

अन्य

दिव्य विश्वास, सवांददाता

मेरठ। गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा कंकरखेड़ा में गुरु गोविंद सिंह का प्रकाश पर्व बहुत ही प्यार, श्रद्धा और भावना के साथ मनाया गया। जिसमें दूर- दूर से आई संगत ने गुरुद्वारा साहिब में पहुंचकर गुरबाणी कीर्तन का आनंद प्राप्त कर गुरु गोविंद सिंह के परोपकारों को याद किया।इस अवसर पर गुरुद्वारा साहिब परिसर को सुंदर-सुंदर फूलों एवं रंगीन रोशनी से विशेष रूप से सजाया गया था।

सर्वप्रथम आरंभ में अमृत कौर के जत्थे ने “वाहो- वाहो गोबिंद सिंह, आये गुरु चेला” शब्द गायन कर संगत को भावविभोर कर दिया।

उसके बाद अनुज सिंह ने वही “प्रकाश हमारा अयो, पटना साहिब विखे पब लयो” शब्द गायन कर वातावरण को भक्तिमय बना दिया।

उनके बाद उपस्थित संगत को गुरु गोविंद सिंह के प्रकाश पर्व की बधाई देते हुए गुरु सिंह सभा कंकरखेड़ा के प्रधान मनजीत सिंह कोछड़ ने कहा हिंदुस्तान का जर्रा जर्रा सदैव गुरु गोविंद सिंह के उपकारों का ऋणी रहेगा। जिन्होंने देश एवं धर्म की रक्षा के लिए अपना पूरा परिवार कुर्बान कर दिया। उन्होंने सदियों से पड़ी निर्जीव रूहो में तलवार को पकड़कर ऐसी शक्ति का संचार कर दिया कि उन्होंने फिर बड़े बड़े जालिम जरनैलो के मुख तोड़ दिए और फिर एक-एक खालसा सवा-सवा लाख पर भारी पड़ गया।

आयोजन को सफल बनाने में धीर सिंह, इकबाल सिंह धारीवाल, गुरबचन सिंह ढिल्लों, बलवीर सिंह, हरप्रीत सिंह ने विशेष योगदान दिया।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *