जिलाधिकारी की अध्यक्षता में संपन्न हुई जिला स्तरीय सतर्कता और माॅनीटरी समिति की बैठक

अन्य देश-दुनिया

 


दिव्य विश्वास, सवांददाता

मेरठ।अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति उत्पीडन के प्रकरणो को निस्तारित करने के लिए जिला स्तर पर गठित जिला स्तरीय सतर्कता और माॅनीटरी समिति की बैठक विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी के. बालाजी की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिलाधिकारी द्वारा लंबित प्रकरणों के सम्बन्ध में निर्देश देते हुये कहा गया कि जिला समाज कल्याण अधिकारी आवश्यक कार्यवाही करें। जिससे कि पीड़ितो को शीघ्र ही आर्थिक सहायता का भुगतान किया जा सके।

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अत्याचार उत्पीड़न योजनान्तर्गत (अत्याचार निवारण) नियम 1995 के नियम 17 के अनुसार विकास भवन सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय सतर्कता और माॅनीटरी समति के बैठक आयोजित की गयी।

बैठक में जिला समाज कल्याण अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अत्याचार उत्पीड़न योजनान्तर्गत 250,90,000/- रुपये का बजट प्राप्त हुआ है, जिसके सापेक्ष वित्तीय वर्ष में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से 231 प्रकरण भुगतान हेतु उनके कार्यालय को प्राप्त हुए हैं जिन पर रुपये 259,32,500/- की धनराशि व्यय की जा चुकी है। 231 प्रकरणों में धनराशि प्रेषित की गयी है। लंबित प्रकरणों पर कार्यवाही विभागीय समन्वय के साथ जारी है। शेष को भी जल्द भुगतान कराया जायेगा।
बैठक में समिति के सदस्य मुख्य विकास अधिकारी ईशा दुहन, जिला समाज कल्याण अधिकारी मो० मुश्ताक अहमद, जिला प्रोबेशन अधिकारी शत्रुघ्न कनौजिया, सांसद प्रतिनिधि जगपाल सिंह बौद्ध एवं विजेन्द्र सागर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षका, अमित कुमार (एडवोकेट)-सदस्य, अशोक शर्मा-सदस्य, आशीष-सदस्य, उमेश कमार मित्तल, ग्रामोद्योग सेवा संस्थान, 178 राजेन्द्र नगर, श्री सुंदर स्वरूप शर्मा, अधीक्षक लाला राम अनुज दयाल बाल शिवाजी मार्ग मेरठ, सुश्री कल्पना पाण्डेय, अध्यक्ष, सारथी वेलफेयर सोसाईटी-2 कैलाश पुरी, श्री कान्तिप्रसाद (एडवोकेट), सुश्री संगम (एडवोकेट), श्री सुन्दर लाल वर्मा, जिला अनुसूचित जाति मोर्चा, मोदीपुरम एवं अन्य सम्मानित व्यक्ति उपस्थित हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *