सीएम योगी आदित्यनाथ ने हुनर हाट मेले का शुभारंभ किया

अन्य

लखनऊ,(एजेंसी): मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लखनऊ के अवध शिल्प ग्राम में 24 वें हुनर हाट का उद्घाटन किया। इसके जरिए यूपी सरकार के ड्रीम प्रोजेक्‍ट ‘वन डिस्ट्रिक्‍ट वन प्रोजेक्‍ट’को भी बड़ा मंच मिला है। इस मौके पर योगी ने कहा पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि योगी ने कहा कि, पहले का भारत अगर होता तो भारत वैक्सीन के लिए भटक रहा होता, लेकिन आज मोदी के नेतृत्व का नया भारत दूसरे देशों को वैक्सीन बांट रहा है। ये उनके विजन का ही परिणाम है।
समारोह में सीएम के साथ केंद्रीय अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी मौजूद रहे। हुनर हाट चार फरवरी तक किया जाएगा। लखनऊ के अवध शिल्‍प ग्राम में आज से हुनर हाट आयोजन किया जा रहा है। हुनर हाट में 31 राज्‍यों के हुनरमंद बाजार के उत्‍पादों का प्रदर्शन होगा।

देश के दस्तकारों और शिल्पकारों को मिलेगा प्रोत्साहन
हाट के जरिए देश के दस्तकारों-शिल्पकारों के उत्पादों को प्रोत्साहन मिलेगा और बाजार भी उपलब्‍ध होगा। इस बार का हुनर हाट का आयोजन वोकल फॉर लोकल थीम को केंद्र बनाकर किया जा रहा है। हुनर हाट में असोम, आंध्र, बिहार, चंडीगढ़, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, गोवा, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, झारखण्ड, कर्नाटक, केरल, लद्दाख मध्य प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, नागालैंड, ओडिशा, पुडुचेरी, पंजाब, राजस्थान, सिक्किम, तमिलनाडु तेलंगाना, उत्तराखंड, पश्चिम बंगाल और उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से करीब 500 शिल्‍पकार और दस्‍तकार शामिल हो रहे हैं।
आयोजन केन्द्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ने किया है। आगे आने वाले सालों में हुनर हाट का आयोजन मैसूर, जयपुर, चंडीगढ़, इंदौर, मुंबई, हैदराबाद, नई दिल्ली, रांची, कोटा, सूरत/अहमदाबाद, कोच्चि, पुडुचेरी और अन्य स्थानों पर किया जाएगा।

पिछले साल दिल्ली में आयोजित हुआ था हुनर हाट
पिछ्ले साल हुनर हाट का आयोजन दिल्ली में किया गया था। जिसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शिरकत की थी। लखनऊ के हुनर हाट में स्वदेशी हस्त निर्मित शानदार कलाकृतियां और उत्पाद, जैसे- अजरख, ऍप्लिक, आर्ट मेटल वेयर, बाघ प्रिंट, बाटि, बनारसी साड़ी, बंधेज, बस्तर की जड़ी बूटियां, ब्लैक पॉटरी, ब्लॉक प्रिंट, बेंतबांस के उत्पाद, चिकनकारी के सामान मौजूद हैं।
इसके अलावा कॉपर बेल, ड्राई फ्लावर्स, खादी के उत्पाद, कोटा सिल्क, लाख की चूड़ियां, लेदर, पश्मीना शाल, रामपुरी वायलिन, लकड़ी-आयरन के खिलौने, कांथा एम्ब्रोइडरी, ब्रास पीतल के प्रोडक्ट, क्रिस्टल ग्लास आइटम, चन्दन की कलाकृतियां आदि प्रदर्शन में होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *