जनपद न्यायाधीश ने न्यायालय परिसर में कराया संविधान की प्रस्तावना का पाठन

अन्य लाइफ स्टाइल शिक्षा

भारत का संविधान विश्व का श्रेष्ठ संविधान: जनपद न्यायाधीश

 

 

दिव्य विश्वास,संवाददाता
मेरठ: उच्च न्यायालय, इलाहाबाद के निर्देशों के अनुक्रम में गणतंत्र दिवस के अवसर पर संविधान की प्रस्तावना का पाठन जनपद न्यायाधीश के न्यायालय के समीप आयोजित कार्यक्रम में कोविड-19 व सामाजिक दूरी का पालन करते हुए जनपद न्यायाधीश मंयक कुमार जैन द्वारा कराया गया। उन्होंने कहा कि भारत का संविधान विश्व का श्रेष्ठ संविधान है। इसमें सभी को समानता व स्वतंत्रता का अधिकार दिया गया है। बाह्य न्यायालय सरधना व मवाना,मेरठ में भी भारतीय संविधान की प्रस्तावना का पाठन किया गया।

 

विशेष न्यायाधीश (ई.सी.) एक्ट,नोडल अधिकारी/जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मेरठ रत्नेश मणि त्रिपाठी,द्वारा गणतंत्र दिवस के अवसर पर देश की एकता व अखण्डता बनाये रखने तथा भारतीय संविधान का सम्मान करने के लिए प्रेरित किया गया।
इस अवसर पर प्रधान न्यायाधीश परिवार न्यायालय इरफान कमर,अपर जिला जज अशरफ अंसारी,मौहम्मद गुलाम उल मदार,पंकज मिश्रा,सुबेदार सिहं,हर्ष अग्रवाल,हरबंश नारायण,तबरेज अहमद,राजीव पॉलीवाल, विकास कुमार,मौ.आजाद,संजय कुमार सिहं व लघुवाद न्यायाधीश  घनेन्द्र कुमार,मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट,विनय प्रकाश सिहं,हेमन्त कुमार कुशवाहा,हिमांशु कुमार सिहं,दिनेश कुमार,धर्मवीर सिहं, महिला न्यायिक अधिकारीगण व तृतीय एंव चतुर्थ श्रेणी कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *