जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक सम्पन्न

अन्य

दिव्य विश्वास,सवांददाता
अलीगढ: कलेक्ट्रेट सभागार में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक का आयोजन किया गया। उन्होंने बैठक के बारे में बताया कि सरकार द्वारा व्यवस्था की गई है कि जिला स्तर पर क्षेत्रीय सांसद सतीश गौतम की अध्यक्षता में महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना, दीनदयाल अंत्योदय आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्किल इंडिया, स्वच्छ भारत मिशन समेत कुल 28 योजनाओं की समीक्षा का दायित्व विकास समन्वय एवं निगरानी समिति को सौंपा गया है। उन्होंने बताया कि बैठक का उद््देश्य जनप्रतिनिधि व विभागीय अधिकारी एक स्थान पर बैठकर संचालित योजनाओं की समीक्षा करें और जहां कोई कमी दिखाई पड़े, उसका निराकरण कराया जाए। सांसद ने कहा कि बैठक का आयोजन संवाद तक ही नहीं रहना चाहिए जनहित के मुद्दों का समाधान भी होना चाहिए। योजना तभी साकार होती है जब जनता का योजना से भला हो और उसका हित हो। विकास एवं निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए।
गौतम ने कहा कि जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी एक-दूसरे के पूरक होते हैं उनके आपसी समन्वय से ही क्षेत्र का विकास होता है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा वित्त पोषित एवं संचालित योजनाओं को धरातल पर उतारने के लिए एक दूसरे का समन्वय एवं सामंजस्य होना अत्यंत आवश्यक है। विकास एवं निर्माण कार्य समेत संचालित योजनाओं का लाभ विकास की बाट जो रहे अंतिम व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए, यही सरकार की मंशा है। सरकार जनहित के विकास कार्यों पर खुले मन से दोनों हाथों से खर्च कर रही है। कोरोना संकट काल मे डगमगाई अर्थव्यवस्था के बावजूद भी केंद्र व प्रदेश सरकार द्वारा विकास कार्यों में किसी प्रकार की कोताही नहीं बरती गई है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह नव निर्माण, मरम्मत कार्यों, जीर्णोद्धार कार्यों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों की भागीदारी सुनिश्चित करें, उनका सम्मान रखने के लिए शिलापट्ट पर क्षेत्रीय सांसद, विधायकों, ब्लॉक प्रमुख के नाम होना चाहिए। जनप्रतिनिधि समाज सेवा के साथ-साथ सम्मान चाहता है, जिसका वह हकदार भी है और मिलना ही चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार दिव्यांगों की समस्याओं के प्रति संवेदनशील है, आने वाले समय में दिव्यांगो को बैटरी चलित ट्राई साईकिलें वितरित की जाएं। जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह ने सभी खंड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह प्रत्येक ग्राम में ग्राम सचिवों के माध्यम से 2-2 समस्याओं को चिन्हित कर उनका गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित कराएं। उन्होंने लोक निर्माण विभाग पीएमजीएसवाई एवं अन्य संस्थाओं को निर्देशित किया है कि वह जर्जर विद्यालयों को चिन्हीकरण करते हुए ध्वस्तीकरण की कार्रवाई सुनिश्चित की जाय। जल निगम द्वारा बताया गया कि हर- घर नल योजना में प्रथम चरण में 44 कार्य स्वीकृत किए गए हैं, जो मार्च 21 तक पूर्ण हो जाएंगे। आपरेशन कायाकल्प के तहत जनपद में 198 विद्यालयों का कायाकल्प किया गया। बरौली विधायक ठाकुर दलबीर सिंह ने स्मार्ट सिटी योजना में कराये गए कार्यों के बारे में जानकारी चाही।
मुख्य विकास अधिकारी अनुनय झा ने बैठक का संचालन किया। बैठक में जिलाधिकारी ने मा0 सांसद सतीश गौतम, परियोजना निदेशक डीआरडीए ने विधायक ठा. दलवीर सिंह, ठा. रवेन्द्र पाल सिंह एवं राजकुमार सहयोगी को पुष्प भेंट कर स्वागत किया। बैठक में ब्लॉक प्रमुख एवं अन्य जनप्रतिनिधि व विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *