विश्व कैंसर दिवस पर वेंक्टेश्वरा में एक दिवसीय सेमीनार का हुआ आयोजन

अन्य

दिव्य विश्वास,संवाददाता
मेरठ  : वेंक्टेश्वरा ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूशन्स एवं वेंक्टेश्वरा मेडिकल कॉलेज के संयुक्त तत्वाधान में कैंसर जैसी भयावह जानलेवा बिमारी के प्रति लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से  कैंसर जागरुक रैली एवं  कैंसर से बचाव, व इसके प्रभावी उपचार पर एकदिवसीय सेमीनार का आयोजन किया गया, जिसमें देश के जाने माने चिकित्सकों ने विभिन्न प्रकार के कैंसर, उनके लक्षण, रोकथाम/बचाव एवं प्रभावी उपचार के बारे में विस्तार से समझाया। अपने सम्बोधन में समूह चेयरमैन डा. सुधीर गिरि ने कहा कि इस  कोरोना काल में समूचे विश्व की चिकित्सा व्यवस्था कोरोना के उपचार एवं टीकाकरण प्रबन्धन में सिमट कर रह गयी, लेकिन भारत में कोराना उपचार के सफल प्रबन्धन के साथ-साथ दूसरी जानलेवा बिमारियों के प्रभावी उपचार एवं रोकथाम के लिए भी लगातार व्यवस्थाऐ जारी रही, जिससे पूरे विश्व में भारत एक मजबूत लीडर के रुप में स्थापित हुआ है। मुख्यवक्ता एवं वरिष्ठ चिकित्सक डा. एस.सी. गुप्ता ने बताया कि विश्व में सैंकड़ों प्रकार के कैंसर में से स्तन कैंसर मुख एवं गले का कैंसर सबसे प्रमुख है। इसके मुख्य लक्षणो में शरीर के किसी हिस्से में गांठ का होना, मांसपेशियों एवं जोड़ो में सूजन, थकान, कमजोरी आदि होते है।  इसके अलावा खराब पोषण एवं कुछ आनुवांशिक दोष भी कैंसर कारक होते है।  प्रतिकुलाधिपति डा. राजीव त्यागी ने कहा कि सरकार के साथ-साथ निजी क्षेत्र के चिकित्सक पैरामेडिकल्स एवं नर्सिंग प्रोफेशनल्स भी इस महाअभियान का हिस्सा बन जाय तो कैंसर को काफी हद तक कन्ट्रोल किया जा सकता है। सेमीनार को कुलपति डा. पी.के. भारती, वरिष्ठ चिकित्सक डा. अतुल वर्मा, डा. ऐना ब्राउन ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर कुलसचिव डा. पीयूष पाण्डे, परिसर निदेशक डा. प्रभात श्रीवास्तव, डा. दीपाली, डा. संजीव, मीडिया प्रभारी विश्वास राणा आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *