रामनगरी में 12 सौ करोड़ की लागत से बनेगा 15 किलोमीटर रोप-वे

अन्य

दिव्य विश्वास, संवाददाता 
अयोध्या: रामनगरी में श्रीराम मंदिर निर्माण के साथ ही श्रद्धालुओं को रामलला तक पहुंचाने के लिए सुगम मार्ग बनाने की तैयारी की जा रही है। भक्त और पर्यटक मंदिर तक आराम से पहुंच सके इसके लिए नगर निगम 15 किमी  का रोप-वे बनाने जा रहा है। इस योजना पर करीब 1200 करोड़ रुपये का खर्च आएगा। इस योजना से अयोध्या आने वाले 50 फीसदी पर्यटकों को जोड़ने की तैयारी है। साथ ही योजना से हर साल करोड़ों की कमाई का भी खाका तैयार किया गया है। अयोध्या में राममंदिर का निर्माण शुरू होने के साथ ही भक्तों को भीड़ भी बढ़ने लगी है। जनवरी माह में करीब दो लाख श्रद्धालुओं ने रामलला के दर्शन किए। ऐसे में भक्तों को बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने पर शासन-प्रशासन का फोकस है। 
रोप-वे बनाने के लिए देश की तीन कंपनियों ने अपना प्रोजेक्ट अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह को सौंप दिया है। विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और नगर निगम के आयुक्त विशाल सिंह ने प्रोजेक्ट का प्रजेंटेशन राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के ट्रस्टियों व पर्यटन मंत्री नीलकंठ तिवारी को दिखाया है। प्रोजेक्ट प्रजेंटेशन के अनुसार अयोध्या में वर्तमान समय में प्रतिदिन करीब 10 हजार श्रद्धालु रामलला के दर्शन करने पहुंच रहे हैं। वहीं, आने वाले समय में यहां रोजाना एक लाख श्रद्धालुओं के आने का अनुमान है, जिसमें से 50 हजार श्रद्धालु रोप-वे का प्रयोग करेंगे। 12 सौ करोड़ की लागत से बनने वाले इस रोप-वे का रूट 15 किलोमीटर होगा, जिसमें पांच स्टॉपेज होंगे। इसके लिए 18 स्टेशन का निर्माण भी किया जाएगा श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए तीन प्रमुख स्थानों एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन से लोगों को राम मंदिर तक ले जाने के लिए रोप-वे का प्रयोग किया जाएगा। इस रोप-वे का निर्माण पीपीपी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप) मोड पर किया जाएगा। इसमें जो राजस्व प्राप्त होगा उससे इनवेस्टमेंट की लागत निकाली जाएगी। 
उम्मीद है कि रोप-वे से हर साल करोड़ों की कमाई होगी। इससे एमसीडी का राजस्व चार गुना हो जाएगा। यही नहीं रोप-वे से न सिर्फ श्रद्धालुओं को सुविधा होगी, बल्कि मंदिरों के शहर को आधुनिकता प्रदान करते हुए उसके धरोहरों को भी संरक्षित किया जा सकेगा। साथ ही वाहन प्रदूषण व रामनगरी में जाम की स्थिति से भी काफी हद तक निजात मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *