डीएम वार रूम पर सभासद द्वारा की गई शिकायत पर पहुंची जांच टीम

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल

जानसठ: कस्बे के मौहल्ला हुसैनपुरा उत्तरी में सरकारी नाले की साइड पटरी पर नगर पंचायत द्वारा कराए गए अवैध कब्जे और अतिक्रमण को हटवाने की शिकायत वार्ड सभासद द्वारा डीएम वार रूम पर की गई थी। जिसका संज्ञान लेते हुए उच्च अधिकारियों द्वारा नायब तहसीलदार जानसठ की अध्यक्षता में एक जांच टीम गठित कर मौके पर भेजी। प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर पंचायत जानसठ के मौहल्ला हुसैनपुरा उत्तरी वार्ड नंबर-5 के सभासद अनुज सैनी द्वारा जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह शुरू किए गए डीएम वार रूम पर अपनी शिकायत दर्ज कराते हुए हर्षी स्वीट से लेकर नाले की करोड़ों रुपए कीमत की साइट पटरी पर आधा दर्जन से अधिक लोगों द्वारा किए गए अवैध कब्जे और अतिक्रमण की शिकायत दर्ज कराई थी। उच्च अधिकारियों द्वारा व्हाट्सऐप पोर्टल का संज्ञान लेते हुए नायब तहसीलदार जसमेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में जांच हेतु एक टीम शनिवार को मौके पर भेजी। जिसमें हल्का लेखपाल प्रताप सैनी व लेखपाल पदम सिंह,कानूनगो अनुज शर्मा सहित नगर पंचायत जानसठ के लिपिक मोहम्मद इरफान आदि ने मौके पर पहुंचकर सरकारी नाले और दोनों और की साइड पटरियों की पैमाइश आदि कराई। अब देखना होगा कि कहीं सत्ता के दबाव में सरकारी नाले की साइड पटरी पर हुए अवैध कब्जों और अतिक्रमण की फाइल कहीं दब करना रह जाए। जब इस बाबत नायब तहसीलदार जसमेन्द्र सिंह से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि सरकारी नाले की साइट पटरियों पर राजस्व विभाग की जितनी सरकारी भूमि है उसकी पैमाइश कराई गई। उधर वार्ड सभासद का कहना है कि कब्जाधारियों द्वारा बेनामो से अधिक करोड़ों रुपए की सरकारी नाले की साइड पटरीयो पर से अवैध कब्जे और अतिक्रमण स्थानीय प्रशासन को हटवाने चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *