डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर गोष्ठी व वृक्षारोपण

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल

मेरठ: भारतीय जनसंघ के संस्थापक डा.श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बलिदान दिवस पर भाजपा मुल्तान नगर मण्डल के तत्वाधान में कार्यक्रम आयोजित हुए। शोभापुर स्थित दुर्गा मंदिर में गोष्ठी का आयोजन हुआ साथ ही मंदिर प्रांगण में पीपल सहित अन्य प्रजातियों के वृक्ष लगाये गए। कार्यक्रम की अध्यक्षता मण्डल अध्यक्ष अमित तोमर ने की व संचालन महामंत्री राहुल चौधरी ने किया।
गोष्ठी में मुख्य वक्ता के रूप में भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य डा. चरणसिंह लिसाड़ी ने कहा कि डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने मात्र 33 वर्ष की आयु में कलकत्ता विश्वविद्यालय के उपकुलपति पद को सुशोभित किया। स्वतंत्रता प्राप्ति के पश्चात अन्य सभी देसी रियासतों के पूर्ण विलय के साथ साथ डा.मुखर्जी जम्मू कश्मीर का भी पूर्ण विलय चाहते थे। धारा 370 के घोर विरोधी थे। डा.मुखर्जी ने नारा दिया था कि एक देश में दो प्रधान,दो विधान,दो निशान नहीं चलेंगे। जवाहर लाल नेहरू के नेतृत्व में बनी सरकार में डा.मुखर्जी को उद्योग मंत्री बनाया गया, परंतु नेहरू की गलत नीतियों के कारण उन्होंने कैबिनेट मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। शिक्षाविद, चिंतक, वक्ता, सिद्धान्तवादी, राष्ट्रवादी डा.मुखर्जी ने अक्टूबर 1951 में भारतीय जनसंघ की स्थापना की।
डा.लिसाड़ी ने कहा कि केन्द्र की वर्तमान सरकार डा. मुखर्जी के सपनों को साकार कर रही है।
इस अवसर पर संदीप पराशर, जितेंद्र शर्मा, मुकेश शर्मा, पिंकी धामा, सुमित शर्मा, धर्मेन्द्र माथुर, अमित अत्रि, मदन गौतम शोभापुर, प्रदीप शर्मा, वीरसैन गौतम, अरुण गर्ग, शंकर पासी, सुसैन गुप्ता, जनेश सैनी आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *