प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना में 75312 गर्भवती महिलाओं को मिला लाभ

आगरा मंडल उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया
  • पहली बार गर्भवती व स्तनपान कराने वाली माताओं को उचित खान-पान व पोषण के लिए मिलेगा।
  • तीन किश्तों में पांच हजार रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए जाने की तैयारी की गई।

आगरा: प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के अंतर्गत पहली बार गर्भवती व स्तनपान कराने वाली माताओं को उचित खान-पान व पोषण के लिए तीन किश्तों में पांच हजार रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराई जाती है। आगरा में अभी तक 75312 गर्भवती महिलाओं को लाभ दिया जा चुका है।

 मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.आर.सी पांडेय

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.आर.सी पांडेय ने बताया कि गर्भवती के बेहतर स्वास्थ्य देखभाल के लिए केंद्र सरकार की अति महत्वाकांक्षी प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ जनपद की महिलाए उठा रहीं हैं। जनपद में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ अधिकाधिक गर्भवती को दिलाने के लिए स्वास्थ्य विभाग हर स्तर से प्रयास कर रहा है। यह योजना जिले में 1 जनवरी 2017 से संचालित की जा रही है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.आर.सी पांडेय ने बताया कि वैश्रिक महामारी कोरोना काल में महिलाओं को इस लाभ से बहुत राहत मिली। इस योजना के अंतर्गत प्रथम बार गर्भवती होने पर महिलाओं को उनके खाते में सरकार द्वारा 5000 रुपये तीन किस्तों में दी जाती है।

 अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.संजीव वर्मन

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी /जिला नोडल अधिकरी डा.संजीव वर्मन ने बताया है कि इस योजना के तहत पहली बार गर्भधारण करने वाली महिला को गर्भधारण के बाद रजिस्टे्रशन कराने पर प्रथम किस्त के रुप में एक हजार रुपये व दूसरी किस्त गर्भवती महिला को अपनी प्रसव पूर्व जांच हो जाने पर दो हजार रुपये व तीसरी किस्त प्रसव के उपरान्त बच्चे को सभी टीके लग जाने के साथ ही दो हजार रुपये दिए जाते है। योजना के जिला कार्यक्रम समन्वयक सन्नू सूर्यवंशी ने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ लेने के लिए प्रथम बार गर्भ धारण करने वाली पात्र महिला लाभार्थी राज्य स्तर से जारी हेल्पलाइन न0 7998799804 व क्षेत्रीय आशा एवं एएनएम से संपर्क करने और योजना का लाभ उठाएं। उन्होंने बताया कि एक जनवरी 2017 से अब तक 75,312 प्रथम बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को योजना का लाभ मिल चुका है। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का उद्देश्य गर्भावस्था प्रसव और स्तनपान के दौरान महिलाओं को जागरुक करना और जच्चा-बच्चा देखभाल और संस्थागत सेवा के उपयोग को बढ़ावा देना महिलाओं को पहले छह महीनों के लिए प्रारंभिक और विशेष स्तनपान और पोषण प्रथाओं का पालन करने के लिए प्रोत्साहित करना। गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताओं को बेहतर स्वास्थ्य और पोषण के लिए बैंक द्वारा नकद प्रोत्साहन प्रदान करना। आवेदन के लिए जरुरी दस्तावेज आधार कार्ड की फोटोकॉपी बैक या पोस्ट ऑफिस खाता की पासबुक आधार नंबर होने पर पहचान संबंधी अन्य विकल्प पीएचसी या सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड, सरकारी विभाग/कंपनी/संस्थान से जारी कर्मचारी पहचान पत्र जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *