सीडीओ की अध्यक्षता में एबीएसए और ब्लॉक के डाटा एंट्री ऑपरेटरों को दिया गया प्रशिक्षण

आगरा मंडल उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया

आगरा: प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत बनने वाले आयुष्मान कार्ड के कार्यक्रम में अब और गति मिल सकेगी। आयुष्मान की टीम को अब नये डाटा एंट्री ऑपरेटर मिल जाएंगे। शनिवार को मुख्य विकास अधिकारी ए.मनिकनंदन की अध्यक्षता में विकास भवन में नोडल अधिकारी डा.पीके शर्मा के निर्देशन में ब्लॉक तथा एबीएसए के डेटा एंट्री ऑपरेटर की आयुष्मान कार्ड बनाने की ट्रेनिंग दी गई।
पीएम जन आरोग्य योजना के नोडल अधिकारी डा.पीके शर्मा ने बताया कि आयुष्मान कार्ड बनाने की गति कोविड-19 के कारण धीमी हो गई थी। अब इस कार्य में तेजी आएगी। शनिवार को आयुष्मान भारत की टीम ने एबीएसए और ब्लॉक स्तर के 30 डाटा एंट्री ऑपरेटरों को आयुष्मान कार्ड बनाने की ट्रेनिंग दी गई। उन्होंने बताया कि टीम आयुष्मान के डा.आशीष कुमार सिंह, गौरव कुलश्रेष्ठ, दुष्यंत दत्त और स्वतंत्र ने सभी डाटा एंट्री ऑपरेटर को ट्रेनिंग दी। अब ये लोग भी आयुष्मान योजना में काम करेंगे। उन्होंने कहा कि ये शुरूआत में पहले से काम कर रहे एमसीटीएस ऑपरेटर की लॉग इन आईडी पर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि अभी एक एमसीटीएस ऑपरेटर की आईडी पर दो लोग कार्य कर सकेंगे। इसके बाद लखनऊ में पत्र लिखकर नये ऑपरेटरों के लिए भी लॉगइन आईडी एक्टिव करा दी जाएगी।
डा.पीके शर्मा ने बताया कि जनपद में 877550 आयुष्मान कार्ड बनाए जाने हैं। जनपद में अब तक कुल 170525 यानि 19.43 फीसदी आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि 175510 परिवारों के सापेक्ष हमने 59675 यानि 34 फीसदी परिवारों के आयुष्मान कार्ड बना दिए हैं। उन्होंने बताया कि जनपद में आयुष्मान के 22 सरकारी और 43 निजी इम्पैनल्ड अस्पताल हैं। जिनमें लाभार्थी अपना इलाज करा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *