अनलॉक हुआ गाजियाबाद: डेढ़ महीने बाद खुले बाजार रहे सूने

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल

गाजियाबाद: कोरोना की दूसरी लहर के कारण करीब डेढ़ महीने से बंद पड़े दिल्ली से सटे गाजियाबाद के तमाम बाजार भले ही सोमवार को खोल दिए गए हों लेकिन यहां पर ग्राहकों की संख्या काफी कम रही और बाजार सूने रहे। वहीं,सरकारी कार्यालयों में भी स्टॉफ की उपस्थिति अन्य दिनों की अपेक्षा ज्यादा रही।
पिछले डेढ़ महीने से गाजियाबाद के तमाम बाजार बंद होने की वजह से लोग अपनी जरूरत की चीजों की खरीदारी नहीं कर पा रहे थे। लेकिन सरकार के नियम के मुताबिक,कोरोना के एक्टिव केस की संख्या 600 से कम होने पर गाजियाबाद को सोमवार से अनलॉक कर दिया गया। इस दौरान दुकानदारों ने दुकानों की सफाई वगैरह करके अपने व्यापारिक प्रतिष्ठानों को खोला। घंटाघर,चौपला,अग्रसेन बाजार,रामनगर,किराना मंडी,गांधीनगर, नवयुग मार्केट,राजनगर,गौशाला फाटक,सेक्टर 23 संजय नगर व ट्रांस हिंडन के सभी बाजार खुले तो सही लेकिन ग्राहकों के नही निकलने के कारण रौनक नही दिखाई दी।
प्रकाश टेक्सटाइल्स के मालिक वेद प्रकाश गर्ग ने बताया कि जिस तरह से डेढ़ महीने बाद बाजार खुले हैं। उस लिहाज से लोगों की उपस्थिति उम्मीद से काफी कम दिखाई। उन्होंने कहा कि आज पहले दिन सबसे खास बात यह रही कि लोगों को नियमों का पालन करने के लिए कहना नहीं पड़ा ज्यादातर लोगों ने मॉस्क लगा हुआ था और सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करते नजर आए।
तुराबनगर व्यापार मंडल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष रजनीश बंसल ने कहा बताया कि आज बाजार में लंबे समय बाजार खुले हैं। इसलिए ग्राहकों की संख्या सामान्य दिनों की अपेक्षा करीब 25 से 30 प्रतिशत ग्राहकों की संख्या रही। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में और ग्राहकों के संख्या बढ़ेगी उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि लोग कोरोना नियमों का पालन कर रहे हैं।
जीडीए के सचिव संतोष कुमार राय ने बताया कि सरकार के नियम के मुताबिक शासन के नियम के मुताबिक कार्यालय पहले से खोले जा रहे हैं। इसमें ऑफिसर की शत-प्रतिशत उपस्थिति पर अन्य स्टॉफ की 50 प्रतिशत की उपस्थिति के नियम पालन किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *