शिक्षक लोगों को टीका लगवाने के लिए करेंगे प्रेरित

आगरा मंडल उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया
  • बेसिक शिक्षा अधिकारी ने जारी किए निर्देश।
  • बीएसए कार्यालय में लगा टीकाकरण केंद्र।

आगरा: बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय में टीकाकरण शिविर का स्वास्थ्य विभाग द्वारा आयोजन किया गया। इसमें बीएसए कार्यालय के कर्मचारियों का टीकाककरण किया गया। इसके साथ ही बीएसए राजीव कुमार यादव ने पत्र लिखकर आदेश जारी किए हैं कि सभी शिक्षक/ शिक्षामित्र एवं अनुदेशक अपने आस-पास के लोगों को टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित करें।
बेसिक शिक्षा अधिकारी राजीव कुमार यादव ने कहा कि संक्रमण से रोकथाम हेतु कोविड-19 टीकाकरण अभियान युद्ध स्तर पर चलाया जा रहा है बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को संक्रमण से सुरक्षित रखने हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय परिसर में ही कोविड टीकाकरण कैंप का आयोजन किया गया है।इसके अतिरिक्त जनपद के प्रत्येक विकासखंड में जगह-जगह टीकाकरण शिविर संचालित किए जा रहे हैं। मोबाइल टीकाकरण शिविर की भी सुविधा शुरू की गई है इसकी जानकारी हेतु कोविन ऐप पर भी उपलब्ध है। कोविड-19 संक्रमण से सुरक्षित रहने के लिए स्वयं का टीकाकरण होने के साथ-साथ प्रत्येक जनमानस का टीकाकरण होना आवश्यक है इसके लिए केंद्र व शासन स्तर से तमाम जागरूकता कार्यक्रम भी संचालित किए जा रहे हैं। आप सभी बेसिक शिक्षा परिवार की सदस्य होने के साथ-साथ देश के प्रबुद्ध नागरिक भी हैं. इसलिए कोविड महामारी से बचाव हेतु स्वयं टीकाकरण कराकर अन्य लोगों को जागरूक करने की भी जिम्मेदारी सभी की है। इसी क्रम में सभी शिक्षक शिक्षामित्र अनुदेशक को 50-50 लोगों का को टीकाकरण करवाए जाने हेतु लक्ष्य दिया है। लक्ष्य के अनुरूप वे अपने परिवार के सदस्यों परिचितों व पड़ोसियों को इसके लिए जागरूक कर अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र पर भेज कर उनका टीकाकरण करवाएं।
राशन डीलर करें लोगों को टीकाकरण के लिए जागरुक
आगरा के जिला पूर्ति अधिकारी ने पत्र लिखकर सभी राशन डीलर को निर्देशित किया है कि वे सभी राशन कार्डधारकों को कोविड टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित करें। उनसे कहें कि नजदीकी टीकाकरण केंद्र पर जाकर वे टीका लगवाएं। जब वे अगले माह राशन लेने आएं तो अपना टीकाकरण का प्रमाण पत्र साथ लेकर आएं।
ग्राम प्रधानों को कर रहे प्रेरित
कोविड-19 टीकाकरण में विश्व स्वास्थ्य संगठन और यूनिसेफ के प्रतिनिधि अपना महत्वपूर्ण सहयोग प्रदान कर रहे हैं। इसके साथ साथ यूनीसेफ के बीएमसी निगरानी समिति को गांव में सभी 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों और 18 से 44 वर्ष की उम्र के लोगों का टीकाकरण कराने को प्रेरित करने के लिए ग्राम प्रधानों को टीकाकरण के लिए प्रेरित कर रहे हैं। यूनिसेफ की बीएमसी रिंकी के प्रयासों के बाद बरौली अहीर में 34 लोगों ने टीकाकरण कराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *