आईआईएमटी में ऑनलाइन कार्यशाला का आयोजन

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल

मेरठ: आईआईएमटी विश्वविद्यालय स्थित आईआईएमटी इंजीनियरिंग काॅलेज, मेरठ में आज आईआईसी के दृष्टिकोण को बढ़ावा देते हुए ऑनलाइन कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला का शीर्षक ‘बौद्धिक संपदा का अधिकार (आईपीआर) एवं स्टार्ट अप के लिये बौद्धिक प्रबंधन’ रहा। इस कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य छात्रों में बौद्धिक संपदा अधिकारों और इसकी संभावनाओं का ज्ञान प्रसार करना था जिससे स्टार्ट अप इंडिया विजन को बढ़ावा मिल सके। कार्यशाला के मुख्य वक्ता डा.बीके साहू (क्षेत्रीय प्रबंधक एवं प्रभारी एनआरडीसी, आईपीएफसी और टीआईएससी, भारत सरकार इनोवेशन वैली, विशाखापत्तनम) रहे।
कार्यशाला का शुभारंभ एमबीए विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो.विख्यात सिंघल के स्वागत भाषण से हुआ। मुख्य वक्ता डा.बीके साहू ने आईपीआर के व्यवहारिक पहलुओं को सामने रखा। उन्होंने बौद्धिक संपदा के प्राकर एवं महत्व पर भी प्रकाश डाला। आत्मनिर्भरता प्राप्त करने के लिये पारिस्थितिक तंत्र की आवश्यकता पर जोर देते हुए उन्होने कहा कि देश में ऐसा माहौल बनाने के लिये विश्वविद्यालय और इंडस्ट्री को मिलकर कार्य करना होगा।
डा.संजीव महेश्वरी, निदेशक आईआईएमटी इंजीनियरिंग काॅलेज ने मुख्य अतिथि व कार्यशाला में भाग लेने वालो का आभार व्यक्त किया। प्रो.सहदेव सिंह तोमर द्वारा कार्यशाला का संचालन किया गया। कार्यशाला को सफल बनाने में प्रो.अमित गर्ग, प्रो.नितिन अग्रवाल, विभिन्न संकायों के विभागाध्यक्ष एवं शिक्षकगणों का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *