कोरोना संक्रमण के चलते टोकन सिस्टम से बंटा राशन, कई जगह हुआ नियमों का उल्लंघन

अलीगढ़ मंडल उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया

अलीगढ़: मई के राशन वितरण की बुधवार से शुरुआत हो गई। इस बार टोकन सिस्टम के माध्यम से राशन वितरण किया जा रहा है। हालांकि,पहले दिन कई जगह नियमों का पालन नहीं हुआ। लोग शारीरिक नियमों का उल्लंघन करते दिखे। कुछ लोगों ने तो मॉस्क तक नहीं पहना हुआ था। इसको लेकर कई बार हंगामा भी हुआ। अब इसे सख्ती से इसे लागू किया जाएगा। जिले में कुल साढ़े छह लाख लोगों को राशन मिल रहा है।
24 हजार अंत्योदय कार्ड धारक
डीएसओ राजेश कुमार सोनी ने बताया कि राष्ट्रीय खाद्य अधिनियम के तहत सरकार हर महीने राशन वितरण करती है। जिले में कुल साढ़े छह लाख कार्ड धारक हैं। इनमें 24 हजार अंत्योदय कार्ड धारक हैं। वहीं अन्य पात्र गृहस्थी के हैं। अंत्योदय कार्ड धारकों को जहां एक मुश्त 35 किलो राशन मिलता है। इनमें 20 किलो गेहूं व 15 किलो चावल होते हैं। वहीं पात्र गृहस्थी कार्ड धारकों को पांच किलो प्रति यूनिट के हिसाब से राशन दिया जाता है। कीमत दोनों कार्ड धारकों के लिए दो रुपये किलो गेहूं व तीन रुपये किलो चावल रहती है। अब बुधवार से जिले में इसी योजना के तहत राशन वितरण की शुरुआत हुई। इस बार कोरोना के चलते टोकल सिस्टम लागू किया गया। तय हुआ कि किसी भी दुकान पर पांच लोगों से अधिक एक बार में लोग नहीं रहेंगे, लेकिन स्थानों से शिकायत मिली हैं कि यहां सिस्टम का पालन नहीं हुआ है। ऐसे में अब संबंधित तहसीलों के पूर्ति निरीक्षकों को सक्रिय किया गया है। निर्देश दिए गए हैं कि सभी दुकानों पर इन नियमों का पूर्ण पालन हो। अगर कहीं भी नियमों के उल्लंघन होता है तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.