आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय में मिलेगी आईसोलेशन की सुविधा

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल
  • अनेक कोरोना संक्रमित घर में नहीं होती होम आईसोलेशन की सुविधा
  • संक्रमण से बचे व्यक्ति भी पा सकते हैं रहने और भोजन की सुविधा

मेरठ: कोरोना काल में कोरोना संक्रमित मरीजों के लिये आईसोलेशन एक बड़ी समस्या है। अक्सर देखा गया है कि कोरोना संक्रमित के घर में होम आईसोलेशन में रहने की पर्याप्त व्यवस्था नहीं होती है। ऐसे लोगों को राहत दिलाने के लिये आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय, गंगानगर ने सार्थक पहल करते हुए होम आईसोलेशन की सुविधा प्रदान करना शुरू कर रहा है। यहां पर कोरोना संक्रमितों के अलावा ऐसे लोग जिनका परिवार में सारे सदस्य कोरोना संक्रमित हैं, उनको रहने की सुविधा भी दी जायेगी।
आयुर्वेद चिकित्सा के क्षेत्र में जाना-माना नाम आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय कोरोना संक्रमितों के लिये आईसोलेशन की सुविधा प्रदान कर रहा है। कोरोना संक्रमित हुए व्यक्ति के घर पर यदि कोविड -19 गाईडलाइन के मुताबिक रहने की व्यवस्था नहीं है तो वह आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय में आकर आईसोलेशन में रह सकता है। कोरोना मरीज को आईसोलेशन में रखने के साथ आयुर्वेद पद्धति से उसका उपचार किया जायेगा। वहीं कोरोना संक्रमित को शुद्ध, सात्विक और पौष्टिक भोजन भी प्रदान किया जायेगा।
इसके अलावा ऐसे भी परिवार हैं जहां एक व्यक्ति को छोड़कर बाकी सब कोरोना संक्रमित हुए हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण से बच गये व्यक्ति को भी आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय रहने और खाने की सुविधा देगा। यह सुविधाएं नो प्राॅफिट-नो लाॅस के शुल्क पर दी जायेंगी। आइसोलेशन का लाभ उठाने के लिये आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय के डिप्टी मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा.एस.के तंवर से मोबाइल नंबर 9411903535 और डा. राकेश पंवार से मोबाइल नंबर 7505039976 पर संपर्क कर सकते हैं।
आईआईएमटी समूह के चेयरमैन श्री योगेश मोहनजी गुप्ता ने बताया कि यह सुविधाएं देने का उद्देश्य कोरोना संक्रमण से पीड़ित परिवार को सहायता प्रदान करना है। होम आईसोलेशन की व्यवस्था हर किसी के पास न होने से लोगोें को बेहद परेशानी का सामना करना पड रहा है। आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय के इस प्रयास से कोरोना पीड़ित परिवार को बेहद राहत मिलेगी। आईआईएमटी आयुर्वेदिक चिकित्सालय में बनाया गया यह होम आईसोलेशन सेंटर देश भर में इस प्रकार का पहला केंद्र होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *