मंडलायुक्त गौरव दयाल ने की अपील,त्रासदी भरे माहौल में अस्‍पतालों व सीएचसी को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स दान करें समाजसेवी और उद्यमी

अलीगढ़ मंडल उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया

अलीगढ़: मंडलायुक्त गौरव दयाल ने कहा कि कोरोनाकाल के त्रासदी भरे माहौल में लोगों के अंदर आज भी मानवता और इंसानियत ज़िंदा है। उन्होंने कहा कि मानवता का धर्म सभी धर्मों से ऊपर माना गया है। कोरोना की दूसरी लहर ने समूचे विश्व को तोड़ कर रख दिया है। ऐसे में हर कोई व्यक्ति अपने अपने तरीके से एक दूसरे की मदद कर रहा है। मंडलायुक्त ने मंडल के चारों जनपद के उद्यमियों,व्यापारियों,सामाजिक संस्थाओं समेत सक्षम परिवारों से अपील की है कि वह इस मुसीबत के समय में लोगों की मदद करने के लिए आगे आएं।
छोटी सी मदद बचा सकती है किसी की भी जान
मंडलायुक्त ने उद्यमियों, व्यापारियों,सामाजिक संस्थाओं एवं संगठन के पदाधिकारियों से अनुरोध किया है कि वह इस मुसीबत के दौर में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स को खरीद कर ज़िला अस्पतालों या सीएचसी पर दान करते हुये कोरोना संक्रमितों के जीवन की रक्षा कर सकते हैं। इस महामारी के दौर में संसाधनों में भारी कमी महसूस की जा रही है। ऐसे में सक्षम व्यक्ति अपने को आगे लाकर जरूरतमंद लोगों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीद कर डोनेट करते हुए संक्रमितों की मदद कर पुण्य कमा सकते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए जरूरतमंदों को ऑक्सीजन पहुंचाना,जिसकी उन्हें बेहद आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि आपकी एक छोटी सी मदद किसी की जान बचा सकती है, उसके किसी परिजन को उससे दूर जाने से रोक सकती हैं।
ऑक्सीजन मुहैया कराना वर्तमान समय की जरूरत
कमिश्‍नर गौरव दयाल ने कहा है कि इतिहास गवाह है,जब जब देश पर किसी भी प्रकार की विपत्ति का साया मंडराया है, उद्यमियों, व्यापारियों, स्वयंसेवी संगठनों एवं संस्थाओं समेत सक्षम परिवारों ने दो नहीं, चार कदम आगे आकर जरूरतमंदों, बेसहारों, असहायों और पीड़ितों को बड़ी विपत्ति से बचाया है। कोरोना की दूसरी लहर विकराल रूप लेकर लोगों की जान लेती जा रही हैं। एक दिन में कोरोना के कई हज़ार नए मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में महामारी से लड़ने के लिए अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की काफी कमी देखने को मिल रही है। कोरोना की इस दूसरी वेब में स्वास्थ्य महकमे को काफी दबाव में डाल दिया है। गंभीर बीमारी वाले कोरोना संक्रमितों को बड़ी संख्या में ऑक्सीजन मुहैया कराना वर्तमान समय की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *