आयुक्त, मेरठ मंडल ने समस्त जिलाधिकारियो और मुख्य चिकित्सा अधिकारियों के साथ की कोविड के नियंत्रण पर वर्चुअल बैठक

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल

मेरठ: कोविड से मृत्यु के प्रकरणों की बढ़ती संख्या गंभीर एवं चिंताजनक है, सभी चिकित्सालय कोविड से होने वाली मृत्यु रोकने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य करें। कोविड रोगियों के उपचार के लिए हॉस्पिटल में कोविड ऑक्सीजन, आईसीयू और वेंटिलेटर बेड की निरंतर क्षमता वृद्धि की जाए।
प्राइवेट हॉस्पिटल्स से वार्ता कर उन्हें कोविड हॉस्पिटल्स के रूप में संचालित कराएं। निजी लैब्स के माध्यम से अधिक से अधिक टेस्ट कराए जाएं। आवश्यकता अनुसार जनपद बागपत के खाली बेड्स में रोगियों को शिफ्ट कराया जाए। अस्पतालों के लिए ऑक्सीजन की निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाए। नियमित आपूर्तिकर्ताओं के अतिरिक्त जनपद के उद्योगपतियों से समन्वय कर उनकी उद्योग इकाइयों में स्पेयर स्टॉक से ऑक्सीजन सिलेंडर लिए जाएं। गौतमबुधनगर और गाजियाबाद में मेडिकल स्टाफ की कमी को लेकर शासन को पत्र लिखा गया है, पत्र की प्रति मांगी गई, ताकि कमिश्नर स्तर से भी शासन को लिखा जा सके। निगरानी समितियों, सर्विलांस टीम, सैनिटाइजेशन दल सहित सभी फ्रंटलाइन वर्कर्स को कोरोना से बचाव संबंधी मॉस्क, ग्लव्स, पीपीई किट आदि सामग्री की कमी ना होने पाए। पंचायत निर्वाचन के दौरान भी कोरोना गाइडलाइंस का सख्ती से पालन कराया जाए। मेरठ में फेस मॉस्क ना पहनने पर चालान की कार्रवाई मंडल में सबसे कम रही है, कार्रवाई में तेजी लाई जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *