डा.अंबेडकर राष्ट्रीय एकता व अखंडता के प्रबल समर्थक थे : डा.चरण सिंह लिसाड़ी

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल

मेरठ : संविधान निर्माता भारत रत्न बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर के जन्म दिवस के उपलक्ष में शहर में भव्य एवं विशाल शोभायात्रा का आयोजन हुआ। डॉक्टर अंबेडकर जन्मोत्सव समारोह समिति मेरठ के तत्वाधान में वैशाली मैदान में उद्घाटन समारोह बुद्ध वंदना से शुभारंभ हुआ। शोभायात्रा वैशाली मैदान से प्रारंभ होकर तहसील चौराहा, जली कोठी, प्यारे लाल शर्मा अस्पताल, घंटाघर ,बागपत अड्डा होते हुए कचहरी स्थित डॉ अंबेडकर प्रतिमा पर समापन हुआ।
उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि मेरठ हापुड़- लोकसभा क्षेत्र के सांसद राजेंद्र अग्रवाल ने कहा कि बाबा साहब आज के शिव हैं जिन्होंने जहर पिया,अपमान सहा परंतु समाज को बचाया। सामाजिक व्यवस्था के कारण होनहार छात्र अंबेडकर को कक्षा में सबसे पीछे बैठना पड़ता था। उनका संपूर्ण जीवन प्रेरणादायी है। उन्होंने देश को सर्वोपरि माना। वे सामाजिक समरसता के अग्रदूत थे। महिलाओं के उत्थान के लिए कानून बनाये।
डॉक्टर अंबेडकर जन्मोत्सव समारोह समिति के संयोजक डा.चरण सिंह लिसाड़ी ने कहा कि डा.अंबेडकर राष्ट्रीय अखंडता के प्रबल समर्थक थे। डॉक्टर अंबेडकर कहते थे कि मैं पहले भारतीय हूं और अन्तत: भारतीय हूं। डॉक्टर अंबेडकर ने वंचितों व महिलाओं के उद्धार हेतु अपना संपूर्ण जीवन लगा दिया।
सैन्य फार्म्स के पूर्व निदेशक चरण सिंह ने कहा कि डा.अंबेडकर को सिंबल ऑफ नॉलेज की उपाधि से सम्मान देने का कार्य अमेरिका ने किया। वह महान अर्थशास्त्री,लेखक,पत्रकार,दार्शनिक चिंतक होने के साथ समाज की पीड़ा को महसूस करते थे।
हरिकिशन अंबेडकर ने कहा कि विश्व का सर्वश्रेष्ठ लिखित संविधान भारतीय संविधान है। संविधान में शोषितों,वंचितों को अधिकार देकर समाज में समता लाने का भरसक प्रयास किया।
शोभायात्रा में सांसद राजेंद्र अग्रवाल,डा.चरण सिंह लिसाड़ी,गौतम सिंह,विनोद प्रताप कबाड़ी,मनीष जाटव,लेखराज सिंह, हर्ष, गोपाल,चतर सिंह जाटव, राजू, योगराज, मुकेश कुमार, भीमसेन, चंद्रभान हरिकिशन अंबेडकर आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *