कोरोना पर योगी सरकार का नया आदेश, 100 से अधिक केस वाले जिलों में अलर्ट जारी

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया लखनऊ मंडल

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोविड-19 के नए स्ट्रेन की संक्रमण दर काफी अधिक है। इसलिए पूरी सजगता बरतना आवश्यक है। यह सुनिश्चित किया जाए कि सार्वजनिक स्थलों व कार्यक्रमों में 100 से अधिक लोग एकत्र न हों। उन्होंने लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज, वाराणसी तथा गोरखपुर में अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के 100 से अधिक केस वाले जिलों में विशेष सावधानी बरती जाए।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सभी प्रकार के रोगों के उपचार की प्रभावी व्यवस्था बनाने के लिए कोविड एवं नान कोविड अस्पताल स्थापित किए जाएं। एम्बुलेन्स सेवाओं को सुचारु ढंग से संचालित किया जाए। कोविड मरीज के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले एम्बुलेन्स वाहनों का उपयोग नान कोविड मरीजों के लिए न किया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि एम्बुलेन्स के लिए किसी भी मरीज को इंतजार न करना पड़े। कोविड अस्पतालों तथा मेडिकल कॉलेजों में बेड्स की संख्या में वृद्धि की जाए।
उन्होंने कहा कि कोविड अस्पतालों में चिकित्सकों, पैरामेडिकल एवं नर्सिंग स्टाफ, आवश्यक औषधियों, मेडिकल उपकरणों तथा बैकअप सहित आक्सीजन की सुचारू उपलब्धता रहनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए कान्टैक्ट ट्रेसिंग का कार्य प्रभावी ढंग से किया जाए। कोविड पाजिटिव व्यक्ति के अधिक से अधिक कान्टैक्ट्स को चिन्हित करते हुए, ऐसे लोगों की जांच करायी जाए। उन्होंने टेस्टिंग कार्य में और तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश में कोविड-19 की टेस्टिंग का कार्य पूरी क्षमता से संचालित किया जाए। संदिग्ध केस में अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर टेस्ट किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि लोग मॉस्क का अनिवार्य रूप से उपयोग करें। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में निगरानी समितियां प्रभावी रूप से कार्य करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *