आजादी के अमृत महोत्सव में देशभक्त कलाकारों को किया गया सम्मानित

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल
  • सेनानियों के बलिदान का चित्रण कर पाया सम्मान
  • देश भक्ति के चित्रण करने वाले कलाकारों का हुआ सम्मान

मेरठ:आजादी के अमृत महोत्सव में अपने कलात्मक हुनर की आहुति देकर शहीदों को नमन करने वाले कलाकारों को किया गया सम्मानित। अवसर था तीन दिवसीय देशभक्ति पूर्ण राष्ट्रीय चित्रकला प्रदर्शनी एवं “कलाकार सम्मान समारोह” के आयोजन का,जिसे “भारतीय प्रज्ञान परिषद(प्रज्ञा प्रवाह)मेरठ प्रांत,एन.ए. एस कॉलेज,मेरठ तथा ललित कला विभाग,चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। समापन समारोह के मुख्य अतिथि शिक्षाविद,राष्ट्र सेवक प्रोफेसर वी.के.अग्रवाल पूर्व प्राचार्य डी.एन.डिग्री कॉलेज मेरठ व कार्यक्रम अध्यक्ष प्रोफेसर वीरपाल सिंह कुल अनुशासन चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय एवं भारतीय प्रज्ञान परिषद के प्रांत अध्यक्ष ने दीप प्रज्वलित कर तथा वीरशहीदों पर पुष्प अर्पित कर सम्मान समारोह का शुभारंभ किया। समारोह में विभिन्न क्षेत्रों से आए उन युवा कलाकारों को सम्मानित किया गया । जिन्होंने “स्वाधीनता के 75 वर्ष” के अंतर्गत स्वाधीनता के महत्वपूर्ण आंदोलनों घटनाओं तथा व्यक्तित्वों का बखूबी प्रेरक और सजीव चित्रण अपने चित्रों में किया। जिसने उपस्थित जनसमूह को आजादी के दीवानों से राष्ट्रभक्ति की प्रेरणा लेने को प्रेरित किया। मुख्य अतिथि ने अपने उद्बोधन में कहा कि कलाकार में समाज को बदलने व करने की अटूट कलाकारों ने अपने चित्रों के इस द्वारा युवाओं को राष्ट्र के प्रति उनके कर्तव्यों का बोध कराया, इसके लिए वह सम्मान के पात्र हैं। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे प्रोफेसर बीरपाल सिंह ने कहा की भाषा से शिक्षित लोग ही लाभ प्राप्त कर सकते हैं जबकि चित्र द्वारा सभी लोगों को जागरूक किया जा सकता है। चित्रकला संप्रेक्षण का सशक्त माध्यम है। कार्यक्रम संयोजिका डा.अलका तिवारी, महानगर संयोजिका-“भारतीय प्रज्ञान परिषद,मेरठ प्रांत। स्वाधीनता के आंदोलन में कला और और विशेष रूप से महिला कलाकारों की सक्रिय भूमिका और योगदान पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर जाने-माने पांच 5 कलाकार शिक्षकों को श्रेष्ठ चित्र बनाने तथा कला द्वारा समाज में जागरूकता लाने के लिए सम्मानित मंच से मुख्य अतिथि द्वारा प्रमाण पत्र, स्मृति चिन्ह,शॉल तथा पुष्प भेंट कर सम्मानित किया गया। जिसमें डॉक्टर सुनील चौहान असिस्टेंट प्रोफेसर सम्राट पृथ्वीराज चौहान डिग्री कॉलेज बड़ौत बागपत, डीएवी कॉलेज, खरखौदा, मेरठ की असिस्टेंट प्रोफेसर, डा.अंजू त्यागी। संजय गांधी पीजी कॉलेज सरूरपुर खुर्द मेरठ की असिस्टेंट प्रोफेसर डा.ऋतु को तथा ए.के.पी कॉलेज,हापुड़ के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर धनेश तथा ललित कला विभाग चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय की डॉक्टर पूर्णिमा विशिष्ट को “कलाकार श्री”सम्मान 2021 से सम्मानित किया गया। 10 छात्र-छात्रा कलाकारों को भी शहीदों के श्रेष्ठ चित्र बनाने हेतु प्रमाण पत्र में मेडल पहनाकर सम्मानित किया गया। जिसमें लक्ष्य,आदित्य, पीयूष, कोमल, विनीता, गरिमा, नव्या, प्राची, कृतिका व अंशु को मेडल दान प्रदान किए गए। कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम संयोजिका एसोसिएट प्रोफेसर एन.ए.एस कॉलेज मेरठ द्वारा किया गया। डॉक्टर शालिनी,डा.पूर्णिमा वशिष्ठ का विशेष सहयोग रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *