महाराष्ट्र: कोरोना टेस्ट कराने वाले हर 100 लोगों में 23 निकल रहे हैं पॉजिटिव, बढ़ी चिंता

देश देश-दुनिया नई दिल्ली

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को बताया कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का औसत साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 23 प्रतिशत तक पहुंच गया है जो देशभर में सबसे अधिक है।
नई दिल्ली : कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को लेकर देशभर में सबसे ज्यादा चिंता का विषय महाराष्ट्र बना हुआ है। महाराष्ट्र में हालात ऐसे हो गए हैं कि कोरोना टेस्ट करवाने वाले हर 100 में से 23 लोग अब पॉजिटिव निकल रहे हैं, जो राज्य में तेजी से फैल चुके कोरोना संक्रमण को दर्शाता है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने मंगलवार को बताया कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का औसत साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 23 प्रतिशत तक पहुंच गया है जो देशभर में सबसे अधिक है। महाराष्ट्र के बाद दूसरे नंबर पर पंजाब है जहां पर पॉजिटिविटी की दर 8.82 प्रतिशत है, फिर छत्तीसगढ़ में 8 प्रतिशत, मध्य प्रदेश में 7.82 प्रतिशत, तमिलनाडु में 2.50 प्रतिशत, कर्नाटक में 2.45 प्रतिशत, गुजरात में 2.2 प्रतिशत और दिल्ली में 2.04 प्रतिशत है।
केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के अनुसार देशभर में साप्ताहिक औसत को देखें पॉजिटिविटी रेट 5.65 प्रतिशत है। महाराष्ट्र, पंजाब, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश की वजह से ही देश में कोरोना टेस्टिंग के बाद पॉजिटिव आने की दर ज्यादा है, देश के अन्य राज्यों में संक्रमण इतनी तेजी से नहीं फैला है जितनी तेजी से इन राज्यों में फैल रहा है।
केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि महाराष्ट्र में 3,37,928 सक्रिय मामले हैं। फरवरी के दूसरे सप्ताह में औसतन एक दिन में 3,000 नए मामले आते थे। आज एक दिन में 34,000 मामले आ रहे हैं। महाराष्ट्र में फरवरी के दूसरे सप्ताह में एक दिन में 32 मृत्यु होती थी, यह बढ़कर 118 हो गई है।
देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 5,40,720 हुई है। यह 4% से ज्यादा है। मृत्यु की संख्या 1,62,000 है। रिकवरी रेट 94% है। 10 ज़िले जहां सक्रिय मामलों की संख्या सबसे ज्यादा है, उनमें से 8 ज़िले महाराष्ट्र के है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *