सुभारती विश्वविद्यालय को मिला “मोस्ट प्रोमिसिंग यूनिवर्सिटी विद एक्सीलेंस प्लेसमेंट इन नॉर्थ इंडिया” का सम्मान

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल शिक्षा

सुभारती विश्वविद्यालय बना उत्तर भारत में सर्वाधिक प्लेसमेंट देने वाला विश्वविद्यालय
मेरठ:शिक्षा के प्रचार प्रसार में अग्रणीय भूमिका निभाने वाले स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय अब उत्तर भारत में सर्वाधिक प्लेसमेंट देने वाला विश्वविद्यालय बन गया है। दिल्ली के संगरीला होटल में टॉपगेलेंट मीडिया एंड रिसर्च द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सुभारती विश्वविद्यालय को “मोस्ट प्रोमिसिंग यूनिवर्सिटी विद एक्सीलेंस प्लेसमेंट इन नॉर्थ इंडिया” का अवार्ड मिला है। यह अवार्ड सुभारती विश्वविद्यालय के महर्षि अरविंदो सुभारती कॉलिज एंड हॉस्पिटल ऑफ नेचुरोपैथी एंड यौगिक साइंसेज के प्राचार्य डा.अभय शंकरगौड़ा को मुख्य अतिथि बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम जाजू एवं बॉलीवुड अभिनेत्री मंदिरा बेदी ने देकर सम्मानित किया।
नेचुरोपैथी एंड योगा कॉलिज के प्राचार्य डा.अभय शंकरगौड़ा ने कार्यक्रम में टॉपगेलेंट मीडिया एंड रिसर्च को धन्यवाद ज्ञापित किया।
सम्मान मिलने पर सुभारती विश्वविद्यालय के कुलपति ब्रिगेडियर डा.वी.पी.सिंह ने सभी को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि सुभारती विश्वविद्यालय शिक्षा के दीप के रूप में भारत सहित विश्वभर में अपने शिक्षा,सेवा,संस्कार एवं राष्ट्रीयता के मंत्र की चमक बिखेर रहा है और सुभारती विश्वविद्यालय शिक्षा में गुणवत्ता देने एवं छात्र-छात्राओं में हुनर पैदा करने में अधिक बल देता है ताकि पढ़ाई पूरी होने पर छात्र छात्राएं रोजगार प्राप्त कर देश हित में अपनी योग्यता से सराहनीय कार्य कर सकें। उन्होंने बताया कि सुभारती विश्वविद्यालय में विभिन्न देशों के छात्र छात्राएं भी अध्ययन कर रहे है और भारतीय संस्कृति एवं सुभारती विश्वविद्यालय की शौक्षिक गुणवत्ता से लाभान्वित हो रहे है।
सुभारती विश्वविद्यालय की मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा.शल्या राज ने अवार्ड मिलने पर हर्ष प्रकट करते हुए कहा कि यह बड़े गौरव की बात है कि सुभारती विश्वविद्यालय को उत्तर भारत में सर्वाधिक प्लेसमेंट देने वाला विश्वविद्यालय चुना गया है इसके लिये संपूर्ण विश्वविद्यालय परिवार बधाई का पात्र है। उन्होंने कहा कि सुभारती विश्वविद्यालय अपने सभी विद्यार्थियों में कौशल विकास के गुण स्थापित कर रहा है ताकि विद्यार्थी दक्ष बनकर अपनी योग्यता से देश का नाम विश्व पटल पर रोशन कर सके। उन्होंने कहा कि यह सम्मान विश्वविद्यालय की शैक्षिक गुणवत्ता का सम्मान है और हमारा यहीं प्रयास है कि विद्यार्थियों को समाज की मुख्य धारा से जोड़कर उन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूर्ण करने में सहयोगी बनाया जा सकें।
कार्यक्रम में भारत सरकार के केंद्रीय इस्पात राज्यमंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते,बीजेपी सांसद राजकुमार चाहर समेत शिक्षा,सामाजिक एवं मीडिया जगत के गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *