मेरठ समेत वेस्‍ट यूपी में निजीकरण के विरोध में बैंकों की हड़ताल, कामकाज ठप

उत्तर प्रदेश के मंडल देश मेरठ मंडल

मेरठ: वेस्‍ट यूपी के सभी जिलों में आज बैंकों के निजीकरण के विरोध में बैंकों की हड़ताल रही। कई जगहों पर बैंक कर्मचारियों ने जमकर नारेबाजी की तो कई जगहों पर एटीएम से पैसे गायब रहे। ग्राहकों को पैसे नहीं मिलने से वे परेशान रहे। 16 मार्च को भी हड़ताल के माध्यम से बैंक सरकार पर दबाव बनाने की कोशिश करेंगे। जिससे सरकार अपने फैसले वापस ले।
बैंक एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना है कि अगर सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक निजी हो गए तो ग्राहकों पर आगे चलकर कई तरह के वित्तीय बोझ बढ़ेंगे। बैंकों की दो दिन की हड़ताल से बैंकिंग सेवा ठप हो गई है। हालांकि आनलाइन बैंकिंग और अन्य डिजिटल माध्यम से लेनदेन पर कोई असर नहीं है। बैंकों का इस साल में यह पहला हड़ताल और प्रदर्शन है।

हापुड़ में बैंक कर्मचारी निजीकरण के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए

बैंकों में लगातार चार दिन बंदी
शनिवार को भी बैंक बंद रहे। रविवार को साप्ताहिक अवकाश रहा सोमवार और मंगलवार दो दिन बैंकों की हड़ताल रहेगी। इसकी वजह से बैंकों में लेनदेन चेकों का क्लीयरेंस सब कुछ प्रभावित हो रहा है।
एटीएम न रहें खाली
आरबीआई के निर्देश हैं कि हड़ताल के बाद भी एटीएम में कैश भरें जाएं। इसकी वजह से बैंकों की ओर से खाली एटीएम भरने का प्रयास किया जा रहा है। लेकिन जो एटीएम ब्रांच से जुड़े हुए हैं, वह खाली पड़े हुए हैं। जिससे ग्राहकों को असुविधा हो रही है।
बैकों का बाहर प्रदर्शन
बैंक कर्मचारी अपने-अपने ब्रांच के बाहर प्रदर्शन कर सरकार को अपने फैसले वापस लेने की मांग कर रहे हैं।स्टेट बैंक के आंचलिक कार्यालय गढ़ रोड पर बैंक के अधिकारी, कर्मचारी एकजुट होकर जमकर नारेबाजी की। आल इंडिया राष्ट्रीयकृत बैंक अधिकारी फेडरेशन के आह्वान पर मेरठ सहित देशभर में राष्ट्रीय कृत बैंक हड़ताल पर हैं।
निजी बैंक खुले
बैंकों के निजीकरण के विरोध में जहां राष्ट्रीय कृत बैंक बंद है वहीं दूसरी ओर एचडीएफसी, आईसीआईसीआई जैसे निजी बैंक खुले हुए हैं।
एटीएम पहले ही खाली
उधर, कई बैंकों के एटीएम दो दिन की छुट्टी की वजह से पहले ही खाली हो गए थे। सोमवार को सुबह बैंकों एटीएम में कैश भरे गए। स्टेट बैंक के अधिकारियों का दावा है कि ग्राहकों की सुविधा को देखते हुए स्टेट बैंक के सभी एटीएम में कैश भरें गए हैं। हड़ताल के बावजूद एटीएम से कैश निकालने में लोगों को कोई परेशानी नहीं होगी।
इन जगहों पर भी बैंक रहे बंद
पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के जिलों में बैंकों की हड़ताल रही। कर्मचारियों ने बैंकों के निजीकरण के विरोध में जमकर नारेबाजी की। साथ ही काम भी ठप कर दिया। कई जगहों पर एटीमएम में पैसे नहीं रहे। इस दौरान कर्मचारियों ने हापुड़,सहारनपुर,मुजफ्फरनगर,बिजनौर,बुलंदशहर,शामली व बागपत में विरोध प्रदर्शन किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *