लखनऊ विश्वविद्यालय के सेल्फ फाइनेंस कोर्सो में पहले होगी अस्थाई शिक्षकों की नियुक्ति

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया लखनऊ मंडल शिक्षा

लखनऊ:  विश्वविद्यालय के सेल्फ फाइनेंस कोर्स चलाने वाले विभागों में जल्द ही शिक्षकों की कमी दूर हो जाएगी। विवि प्रशासन होली से पहले शिक्षकों के अस्थाई पदों पर साक्षात्कार शुरू करने की तैयारी कर रहा है। जल्द ही पात्र अभ्यर्थियों की सूची वेबसाइट पर जारी करने के बाद साक्षात्कार के लिए बुलावा पत्र भेजे जाएंगे। विश्वविद्यालय की कोशिश है कि होली से पहले साक्षात्कार शुरू हो जाएं ताकि 15 अप्रैल तक विभागों में शिक्षकों की कमी दूर हो जाए।
वेबसाइट पर जारी होगी सूची
लविवि के इंजीनियरिंग,लॉ,कामर्स और आइएमएस जैसे कई ऐसे सेल्फ फाइनेंस कोर्स हैं,जहां शिक्षकों की कमी है। विश्वविद्यालय ने 185 अस्थाई (संविदा) शिक्षकों के पदों के लिए 27 अक्टूबर से एक दिसंबर तक आवेदन लिए थे। इनमें 2,080 लोगों ने आवेदन किया था। रिक्रूटमेंट एंड असेसमेंट सेल की डीन प्रो। मनुका खन्ना ने बताया कि इन अभ्यर्थियों की ओर से आवेदन पत्रों की स्क्री¨नग के बाद अर्ह अभ्यर्थियों की सूची लगभग तैयार हो चुकी है, जिसे जल्द ही वेबसाइट पर जारी करने के बाद साक्षात्कार के लिए बुलाया जाएगा। साक्षात्कार के लिए विशेषज्ञों का भी चयन भी अंतिम दौर में है।
स्थाई भर्ती में अभी लगेगा समय
विश्वविद्यालय ने पिछले साल 16 सितंबर को शिक्षकों के 180 स्थाई पदों पर भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू की थी। इनमें असिस्टेंट प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर और प्रोफेसर के पदों पर 19 अक्टूबर तक आवेदन लिए गए। 5,080 आवेदन पत्र आए थे। इनके इंटरव्यू के लिए राजभवन से विशेषज्ञों के पैनल का अनुमोदन लिया जाएगा। उसके बाद साक्षात्कार की प्रक्रिया आयोजित की जाएगी, हालांकि लविवि का दावा है कि जुलाई से शुरू होने वाले नए शैक्षिक सत्र से पहले चयन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
मानव विज्ञान विभाग की नियुक्ति में फंसा पेंच
मानव विज्ञान विभाग में शिक्षकों के चार स्थाई पद हैं। इसमें सामान्य वर्ग के लिए सीट न दिए जाने का मामला कोर्ट में चला गया, जिस पर कोर्ट ने कहा है कि प्रक्रिया पूरी कर लें लेकिन, फाइनल न करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *