जानसठ पुलिस ने 4 वर्षीय परी हत्याकांड का किया खुलासा,दो हत्यारों को पुलिस ने जेल भेजा

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल
  • टॉफी का लालच देकर बच्ची से की अश्लील हरकत

जानसठ: 4 वर्षीय परी हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा करते हुए निर्माणाधीन मकान मालिक एवं काम कर रहे मिस्त्री को पुलिस ने जेल भेज दिया है। पुलिस ने हत्यारों पर पास्को एक्ट लगाते हुए गंभीर धाराओं में जेल भेजा। सीओ सोमेंद्र नेगी ने बताया कि दो हत्यारों ने बच्ची के साथ अश्लील हरकत करने एवं उसकी हत्या करने की बात को कबूल किया है।
शुक्रवार को सीओ सोमेंद्र नेगी ने बताया कि 1 सप्ताह पूर्व कस्बा के मौहल्ला जन्नताबाद निवासी मोहसीन की 4 वर्षीय बच्ची परी की हत्या कर शव को एक निर्माणाधीन मकान मैं बने शौचालय के टैंक में फेंक दिया गया था। उन्होंने बताया कि बच्ची जब घर के बाहर खेलते हुए रहस्यमय ढंग से गायब हो गई थी। कुछ ही देर बाद बच्ची के गुम होने पर परिवार एवं कस्बे के लोगों ने बच्ची को ढूंढने को लेकर चारों ओर छानबीन शुरू कर दी थी। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और रात भर खोजबीन में जुटी रही थी। मृतक बच्ची के पिता मोहसन के मकान के बराबर में ही निर्माणाधीन मकान में बच्ची के गायब होने के अगले दिन काम ने होने पर पुलिस को मकान मालिक और काम करने वाले राजमिस्त्री पर शक हुआ। तभी पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया था। 4 वर्षीय बच्ची परी का शव 36 घंटे बाद पास में बंद पड़े निर्माणाधीन मकान में बने शौचालय के पानी भरे टैंक से बरामद कर लिया गया था। इस दौरान पुलिस ने उक्त मकान मालिक दिलशाद एवं मकान में चिनाई का कार्य करने वाले मिस्त्री अफजल को हिरासत में ले लिया था। पुलिस पूछताछ में कस्बे के जुम्मा मौहल्ला निवासी मकान मालिक दिलशाद ने बताया कि राजमिस्त्री अफजल ने गली में खेल रही बच्ची को टॉफी का लालच देकर अंदर मकान में बुलाया और अश्लील हरकत करने लगा। बच्ची के चिल्लाने पर उसने बच्ची का मुंह हाथों से भींच दिया जिसके चलते बच्ची की मौत हो गई। अफजाल और दिलशाद ने मिलकर बच्ची के शव को मकान में बने शौचालय के टैंक में भरे पानी में फेंक दिया। सीओ सोमेंद्र नेगी का कहना है कि हत्यारों ने जघन्य अपराध किया है पुलिस ने गंभीर धाराओं के साथ-साथ पोक्सो एक्ट के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत करते हुए हत्यारों को जेल भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *