डा.अतुल कृष्ण बौद्ध ने अपनी मुस्लिम बहन को “भात” देकर पेश की सांप्रदायिक सौहार्द की मिसाल

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल राज्य शिक्षा

मेरठ:स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय के संस्थापक व उन्मुक्त भारत के राष्ट्रीय संयोजक डा. अतुल कृष्ण बौद्ध ने पूर्वा अहमद नगर निवासी अपनी मुंहबोली मुस्लिम बहन शाहीन परवीन की बेटी ग़ज़ल की शादी के अवसर पर भारतीय सभ्यता,संस्कृति के परम्परागत उपहार “भात”(भाई की तरफ से बहन को भांजी के विवाह के अवसर पर दिए जाने वाले अमूल्य सौगात) देकर सांप्रदायिक सौहाद की मिसाल पेश की है।
स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर व समाज विज्ञानी एवं शोध परियोजनाओं से जुड़े डा.सरताज अहमद की बहन शाहीन परवीन वर्षों से रक्षा बंधन के पावन पर्व पर डा.अतुल कृष्ण बौद्ध को भाई बहन के स्नेह व प्रेम की प्रतीक राखी भेजती है। डा.अतुल कृष्ण बौद्ध शाहीन परवीन की बेटी ग़ज़ल की शादी के अवसर पर मेरठ में उपस्थित नहीं होने के कारण शामिल नहीं हो सके लेकिन उन्होंने अपना कर्तव्य पूरा करते हुए अपने प्रतिनिधि के रूप में सुभारती विश्वविद्यालय के मीडिया मैनेजर अनम शेरवानी द्वारा “भात” की सौगात भेजकर भाई के कर्तव्य को निभाते हुए हिन्दू मुस्लिम एकता का परिचय दिया।
डा.अतुल कृष्ण बौद्ध ने अपने संदेश में कहा कि स्वामी विवेकानन्द सुभारती विश्वविद्यालय एवं उन्मुक्त भारत की विचारधारा यहीं है कि देश के सभी लोग जाति धर्म का भेदभाव खत्म करके एक दूसरे के विवाह समारोह,त्यौहारों तथा सुख दुख में शामिल हो तथा एक दूसरे को प्रोत्साहित करें ताकि सशक्त भारत का निमार्ण किया जा सकें। उन्होंने नव दंपत्ति को मंगल जीवन की शुभकामनाएं देते हुए अपना आर्शीवाद दिया।
सुभारती विश्वविद्यालय के मीडिया मैनेजर अनम शेरवानी ने डा. सरताज अहमद व उनकी बहन शाहीन को डा.अतुल कृष्ण बौद्ध द्वारा भेजे गये शुभकामना संदेश को सुनाया। उन्होंने कहा कि उन्मुक्त भारत एक गैर राजनैतिक संगठन है जो देश की जनता में समाजिक उत्थान हेतु कार्य कर रहा है जिसमें चिकित्सा शिविर, विचार गोष्ठी,सम्मेलन एवं जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन करके समाज के हर वर्ग को मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि धार्मिक एकता हमारे देश की नीव है और इसको सौहार्द के साथ प्रोत्साहन देकर राष्ट्र हित के कार्य करना हम सबका कर्तव्य है। उन्होंने बताया कि पिछले अनेक वर्षों से उन्मुक्त भारत एनजीओ समाज को जातिविहीन बनाने हेतु प्रतिबद्ध है और उन्मुक्त भारत के संस्थापक डा.अतुल कृष्ण बौद्ध के आदर्शों व उनके संस्कारों से देश को रूबरू कराया जा रहा है। उन्होंने विशेष बताया कि देश की जनता को दिन प्रतिदिन उठ रहे ज्वलंत विषयों पर भी जागरूक किया जा रहा है ताकि देश में प्रेम,करूणा मैत्री का माहौल बना रहे और समाज की उन्नति हो सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *