पंचायत चुनाव: आरक्षण जारी होते ही होने लगा विरोध

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल राजनीति राज्य

मेरठ: त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण सूची मंगलवार को जारी कर दी गई। सूची ने तमाम दावेदारों का चुनावी गणित एक तरह से बिगाड़ दिया है। उधर,सूची जारी होने के साथ ही प्रक्रिया पर कुछ लोगों ने सवाल उठाते हुए आपत्ति भी दर्ज कराना शुरू कर दिया है। हस्तिनापुर ब्लॉक प्रमुख ने खुला पत्र लिखकर आरक्षण प्रक्रिया पर सवाल उठाया है।
हस्तिनापुर ब्लॉक प्रमुख कुसुम सिद्धार्थ द्वारा जारी किए गए पत्र में कहा गया है कि त्रिस्तरीय ग्राम पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण प्रक्रिया में कई तरह की गड़बड़ी की गई है। आरक्षण सूची का अवलोकन करने पर कई तरह की त्रुटियां सामने आ रही है। उदाहरण के लिए हस्तिनापुर क्षेत्र पंचायत में कई वार्डों को अनारक्षित किया गया है। जबकि नियम तोड़ कर कई वार्डों को पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित कर दिया गया है।
ऐसे ही महिलाओं की भी आरक्षण प्रक्रिया में अनदेखी की गई है। एससी और ओबीसी वर्ग में महिलाओं के लिए एक भी सीट आरक्षित नहीं की गई है। ब्लाक प्रमुख ने आरोप लगाया कि आरक्षण प्रक्रिया सत्ता के दवाब में पूर्ण की गई है। जिस कारण अन्य दलों को नुकसान पहुंचाने के लिए सूची तैयार की गई है। उन्होंने प्रकरण की शिकायत निर्वाचन आयोग से भी करने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *