जेपी नड्डा ने लॉन्च किया ‘सोनार बांग्ला’ कैंपेन,दो करोड़ लोगों से संपर्क साधेगी बीजेपी

देश देश-दुनिया राज्य
                        जेपी नड्डा ने लॉन्च किया ‘सोनार बांग्ला’ कैंपेन

कोलकाता,(एजेंसी) : पश्चिम बंगाल विधान सभा चुनाव में जुटी भारतीय जनता पार्टी हर तबके के बीच पैठ बनाने में जुटी है। बुद्धिजीवियों से लेकर मजदूरों पर नजर है। गुरुवार को पश्चिम बंगाल के एक दिवसीय दौरे पर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कोलकाता में ‘लोक्खो सोनार बांग्ला’ अभियान की शुरुआत की है। 
2 करोड़ से ज्यादा लोगों से लेंगे सुझाव:
 मिशन बंगाल पर पहुंचे बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, ‘बंगाल का गौरवमयी स्वर्णिम इतिहास रहा है। जितने बंगाल के दिग्गज हुए उन सभी के विचारों का समावेश करना है। सोनार बांग्ला के जरिए हमारी कोशिश है, बंगाल की जनता की आशाओं और आकांक्षाओं का समावेश किया जाए। उनके विचारों को लेकर आगे चला जाए. इस सिलसिले में हम 2 करोड़ से ज्यादा सुझाव लेंगे और इसके लिए हर विधान सभा क्षेत्र में 100 पेटियां भेजेंगे।
50 पेटियां प्रमुख जगहों पर रखी जाएंगी। नड्डा ने बताया, कि बीजेपी सोनार बांग्ला के सपने को साकार करने के लिए लोगों से सुझाव के लिए एक नंबर जारी कर रही है। इस पर मिस्ड कॉल दें या वाट्सएप पर सुझाव दिया जा सकेगा। 3 मार्च से 20 मार्च तक ये कैम्पेन चलेगा।
उन्होंने कहा कि भाजपा बंगाल के विकास के लिए काम करना चाहती है। बंगाल को सोनार बांग्ला बनाने के लिए आप सभी के सुझाव चाहिए।इसी सुझाव के आधार पर हम घोषणा पत्र तैयार करेंगे।बंगाल में एक नई संस्कृति हम देने वाले हैं, नो कट-मनी। भ्रष्टाचार मुक्त और विकास युक्त बंगाल हम देने वाले हैं। बंगाल में आयुष्मान भारत योजना को हम लागू करेंगे।
नड्डा ने इस मौके पर जोर देकर कहा कि बंगाल को भ्रष्टाचार से मुक्त बनाएंगे। बंगाल में अवैध कोयला खनन को रोकेंगे। सिंडिकेट के धंधे को भी पूरी तरह से बंद करेंगे।भाजपा की सरकार में किसी को भी कट मनी नहीं देनी पड़ेगी।हम बंगाल के लोकल प्रोडक्ट को ग्लोबल मार्केट में पहुंचाने का प्रयास करेंगे।उन्होंने दावा किया कि हम बंगाल की संस्कृति को पुनर्जीवित करेंगे।
आयुष्मान योजना करेंगे लागू: भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि बंगाल में भाजपा की सरकार बनते ही केंद्र की आयुष्मान भारत योजना लागू करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर बंगाल स्वास्थ्य के क्षेत्र में पिछड़ा रहेगा तो देश कैसे आगे बढ़ेगा? इसलिए बंगाल को हेल्थ की दृष्टि से आगे बढ़ाने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *