अपने काम से प्यार करो और रूके बिना सतत प्रयास करते रहो: प्रो.चंद्रा जैन

उत्तर प्रदेश के मंडल देश देश-दुनिया मेरठ मंडल राज्य शिक्षा
  • सर छोटूराम अभियान्त्रिकी एवं तकनीकी संस्थान में हुआ तीन दिवसीय वेबिनार का हुआ समापन
  • कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती

मेरठ : अपने काम से प्यार करे और रुके बिना सतत् प्रयास करते रहें । युवागण अपने आसपास की कठिनाईयों का ध्यानपूर्वक अवलोकन करे और फिर उन समस्याओं के समाधान हेतु अपने नवीन विचारों का क्रियान्वन करें। उस नवाचार हेतु किसी से आर्थिक सहायता की अपेक्षा ना करें। ये राह आसान नही है, बहुत पथरीली हैं, परन्तु कोशिश करने वालों की कभी हार नही होती। उसकी पुष्टि हेतु अर्ध कुम्भ में व्यवस्था बनाने हेतु एक युवा विद्यार्थी द्वारा एक डिवाइस का अविष्कार, अनअकादमी, खानअकादमी आदि का विस्तृत उदाहरण देते हुए प्रो चंद्रा जैने तीन दिवसीय वेबिनार के समापन के अवसर पर अपने विचार प्रस्तुत किए।
प्रो.चंद्रा जैन श्रव्य-दृश्य उदाहरणों के माध्यम से प्रतिभागियों के साथ प्रभावशाली संवाद स्थापित किया। अपने व्याख्यान में सफल व्यवसायी स्टीब जाॅब्स की सफलता की ऊँचाईयों को छूने वाली यात्रा का मर्मस्पर्शी वृतान्त देते हुये विद्यार्थियों को नवाचार के मूल मंत्र दिए। सर छोटूराम अभियान्त्रिकी एवं तकनीकी संस्थान,चौ. चरण सिंह वि.वि. द्वारा How To Think To Start A Start Up And The Ways To Validate The Idea: Do Your Venture विषय पर आयोजित वेबिनार का समापन किया गया।
प्रो. हरे कृष्णा (अभियान्त्रिकी एवं तकनीकी संकायाध्यक्ष) ने अध्यक्षीय सम्बोधन में विद्यार्थियों को प्रेरित करते हुए बताया कि आज रोजगार चुनाव के अधिक अवसर उपलब्ध होने के कारण पहले की भाँति,चुनाव कुछ सरल हो गया है। अतः अपनी रुचि के कार्यों पर निष्ठापूर्वक विचार करें,विश्लेषण करें। युवावस्था में आप नये विचारों के फलस्वरुप आने वाले खतरों का भी सामना करने में सक्षम होते है।अतः आप नौकरी, स्व-व्यवसाय अथवा नवाचार कोई भी माडल चुन सकते हैं।
संकायाध्यक्ष, अभियान्त्रिकी एवं तकनीकी, प्रो. हरे कृष्णा की अध्यक्षता में, कार्यक्रम का आरम्भ, सरस्वती वन्दना द्वारा किया गया। कार्यक्रम की संयोजिका, इं. निधि भाटिया ने स्वागत उद्बोधन एवं विषय की जानकारी प्रस्तुत की। डा.सविता मित्तल ने वक्ता,प्रो. चन्दा जैन का विस्तृत परिचय दिया।
सह-संयोजिका डा. वन्दना द्वारा वक्तव्य के उपरान्त प्रश्नोत्तर सत्र कराया गया। वक्ता से पूछे गये प्रश्न स्पष्टतः विद्यार्थियों के ज्ञानार्जन एवं उत्साह के द्योतक थे। जिनका वक्ता ने बहुत विद्ववतापूर्वक उत्तर दिया। तदुपरान्त प्रशासनिक अधिकारी, इं.मिलिन्द ने धन्यवाद ज्ञापन किया। कार्यक्रम के सफल आयोजन में प्रो. जयमाला (निदेशक), शिक्षकगण-इं.अमित शर्मा, गुरुशरण कान्त,पंकज कुमार,बीनू यादव,शिवम गोयल,सन्दीप अग्रवाल, विकास जैन,गौरव त्यागी,मानव बंसल,कवि भूषण,रितु शर्मा एवं छात्रगण दीपक पटेल और चैतन्य सैनी का सहयोग रहा। कार्यक्रम में तीन माध्यम-जूम,फेसबुक लाइव एवं यू-ट्यूब लाईव से लगभग 1000 प्रतिभागियों ने भाग लिया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान द्वारा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *