’’वेंक्टेश्वरा चिकित्सा दीक्षारम्भ-2021’’ का हुआ शानदार आगाज

meerut उत्तर प्रदेश के मंडल देश मेरठ मंडल शिक्षा
  • एम.बी.बी.एस. प्रथम वर्ष में प्रवेश लेने वाले 150 छात्र-छात्राओ को दिलायी गयी मानव सेवा की शपथ
  • आपकी निस्वार्थ चिकित्सा सेवा, समर्पण एवं त्याग ही आपको दिलाता है भगवान का दर्जा: डा. सुधीर गिरि, चेयरमैन वेक्टेश्वरा समूह
  • वेंक्टेश्वरा नयी मेडिकल तकनीको द्वारा देश को विश्वस्तरीय चिकित्सक देने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध- बिग्रडियर : डा. सतीश अग्रवाल, डारेक्टर/डीन ’’विम्स’’ मेडिकल काॅलेज।

मेरठ: श्री वेंक्टेश्वरा विश्वविद्यालय के अधीन संचालित वेंक्टेश्वरा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साईंसेज (विम्स) मे सत्र 2020-21 के एम.बी.बी.एस. पाठ्क्रम के नवप्रवेशित 150 छात्र-छात्राओ के लिए आयोजित ओरिन्टेशन प्रोग्राम “चिकित्सा दीक्षारम्भ-2021″का शानदार शुभारम्भ हुआ,जिसमें मेडिकल काॅलेज के स्टाॅफ एवं प्रबन्धन सदस्यों ने चिकित्सको की देश सेवा में भूमिका एवं उनकी गरिमा के साथ मानव सेवा की शपथ दिलाकर उनसे निस्वार्थ भाव से मरीजो के कुशल उपचार एवं सेवा की आवाहन किया।

श्री वेक्टेश्वरा विश्वविद्यालय के डा. सी.वी. रमन सभागार में आयोजित ’’चिकित्सा दीक्षारम्भ-2021’’  का शुभारम्भ विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डा.सुधीर गिरि, प्रतिकुलाधिपति डाॅ0 राजीव त्यागी एवं निदेशक विम्स मेडिकल काॅलेज बिग्रेडियर (से.नि.)डा.सतीश अग्रवाल ने सरस्वती माँ की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित करके किया। इसके बाद  एम.बी.बी.एस. प्रथम वर्ष छात्राओ ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की।
अपने सम्बोधन में समूह चेयरमैन डा.सुधीर गिरि ने कहाकि दुनिया में चिकित्सक एवं न्यायधीश को ही भगवान का दर्जा दिया जाता है। लेकिन सही मायनो में रोगियो की निस्वार्थ सेवा त्याग एवं समपर्ण के कारण चिकित्सका का स्थान न्यायधीश से भी ऊपर रखा गया है। हम नवप्रवेशित सभी छात्र-छात्राओ से अपेक्षा करते है कि चिकित्सक की गरिमा को ध्यान में रखते हुए आप सभी देश सेवा में अपना योगदान देगे। प्रतिकुलाधिपति एवं विम्स मेडिकल काॅलेज के सी.ई.ओ. डा.राजीव त्यागी ने कहा कि वैश्विक स्वास्थ्य संकट कोरोना ने पूरी दुनिया ने भारतीय चिकित्सको के कुशल प्रबन्धन, त्याग एवं समर्पण का लोहा माना। इस अवसर पर कोरोनाकाल में मरीजो का उपचार करते हुए अपनी जान गवांने वाले चिकित्सको को श्रद्धांजलि भी अर्पित की गयी। चिकित्सा दीक्षारम्भ-2021 कार्यक्रम को कुलपति डा. पी.के.भारती, कुलसचिव डा.पीयूष पाण्डे, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा.जे एन राव,अपर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा.सुशील शर्मा,प्रो0 डा.अतुल वर्मा,डा. बी.एन.सिंह,डा.संजीव भटट,डा.भूपेन्द्र बोरा आदि ने भी सम्बोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.